पासिंग आउट परेड में शामिल हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, 72 उपाधीक्षकों से मिली सलामी

मुरादाबाद। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज मुरादाबाद में हैं। मुख्यमंत्री ने यहां डॉ भीमराव आम्बेडकर पुलिस एकेडमी में डिप्टी एसपी की पासिंग आउट परेड की सलामी ली।। एकेडमी से आज 72 डिप्टी एसपी अपना प्रशिक्षण पूरा करके पास आउट हुए हैं जिन्हें प्रदेश में विभिन्न जिलों में तैनाती दी गई है। मुख्यमंत्री ने परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली।

इसके बाद सभी डिप्टी एसपी को शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री ने पास आउट हुए डिप्टी एसपी को सम्बोधित भी किया।पासिंग आउट परेड की सलामी लेने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इन नए पुलिस अधिकारियों को ईमानदारी के साथ दायित्वों को निभाने की सीख दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उपाधीक्षक का पद पुलिस में अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान रखता है। नए पुलिस अधिकारी अपने व्यवहार में कठोरता के साथ विनम्रता बनाए रखें और जनता को न्याय दिलाने के लिए काम करें। तभी वह जनसेवक के तौर पर अपने दायित्वों का पालन कर पाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि अपराध के मामले में सरकार की नीति जीरो टॉलरेंस की है। अधिकारी एकेडमी से निकलकर फील्ड में जाएं तो ध्यान रखें कि अपराधियों पर किसी भी तरह से की नरमी न बरती जाए। लेकिन आम जनता के साथ विनम्रता बनी रहे।

पुलिस एकेडमी में प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षकों का यह 86 वां बैच था। आधारभूत प्रशिक्षण में आंतरिक और बाह्य विषयों में सबसे अधिक अंक पाकर डिप्टी एसपी सुकन्या शर्मा सर्वांग सर्वोत्तम कैडेट चुनी गईं। अलीगढ़ की रहने वाली सुकन्या शर्मा को मुख्यमंत्री ने मेडल और प्रशस्ति पत्र के साथ ही तलवार भी भेंट की।

इसके पश्चात पुलिस लाइन में ही आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बनाए गए भवनों के 5 आवंटियों को चाबी सौंपी। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत करीब 1300 आवास बनाए गए हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि उनकी सोच शुरू से विभाजनकारी रही है। अब सरदार पटेल की तुलना से जिन्ना से करके उन्होंने फिर से विभाजनकारी सोच जाहिर की है। अखिलेश यादव की सोच को तालिबानी सोच बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अखिलेश यादव को देश से माफी मांगनी चाहिए।

New Delhi : 19 महीने बाद शुरू हो गयी ऑफलाइन पढ़ाई, दिल्ली में खोले गये नर्सरी से आठवीं तक के स्कूल

मुख्यमंत्री ने अखिलेश यादव की सोच को तालिबानी करार दिया है। उन्होंने कहा कि सरदार बल्लभ भाई पटेल की तुलना जिन्ना से करके अखिलेश यादव ने अपनी विभाजनकारी मानसिकता का परिचय दिया है। लेकिन प्रदेश और देश की जनता उन्हें हरगिज स्वीकार नहीं करेगी। दरअसल मुख्यमंत्री सपा अध्यक्ष के उस बयान का जिक्र कर रहे थे , जिसमे अखिलेश यादव ने सरदार पटेल की तुलना जिन्ना से कर दी थी। मुख्यमंत्री ने कहा इन लोगो की मानसिकता ही समाज को तोड़ने की रही है। यह लोग शुरू से ही तुष्टिकरण की राजनीति करते रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper