मसीह शान्ति सेना ने कांग्रेस से चुनाव में मांगा ईसाई प्रतिनिधित्व

दिल्ली माॅडल की तर्ज पर किया जायेगा उत्तराखंड का विकास

उत्तराखंड के मसीह अल्पसंख्यक समाज ने राज्य में हो रहे विधानसभा चुनावों में कांग्रेस से अपने कम से कम एक प्रतिनिधि को टिकट देने की मांग की है। मसीह शांति सेना नामक एक संगठन के अध्यक्ष रमेश कुमार मैक्स ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि अभी तक हमारी कोई भी बात कांग्रेस पार्टी के अंदर नही सुनी जा रही है। साथ ही, हमारे प्रदेश के नेता हमारी बात को लेकर आलाकमान हाईकमान तक नही पहॅुचा रहे है जिस कारण आज हम मसीह समाज अपने आप को ठगा-सा महसूस कर रहे है। उन्होंने कहा कि ईसाई समुदाय कांग्रेस को हमेशा वोट देता रहा है। इसके बावजूद, पार्टी ने कभी भी 70 में से एक भी सीट पर हमे टिकट नही दिया है।

श्री मैक्स ने कहा कि कांग्रेस हमेशा नारा लगाती रही कि हम हर समाज, सर्व धर्म को साथ लेकर चलते है। इसके विपरीत उसकी मानसिकता सामने आती है कि 2002 से 2007 तक किसी एक व्यक्ति को भी ईसाई समुदाय से या ईसाई समुदाय के समर्थन से विधानसभा या लोकसभा का आज तक कोई भी टिकट नही दिया गया। उन्होंने कहा कि वैसे कांग्रेस सभी धर्म, जाति के व्यक्तियों को टिकट देती है, पर इतनी बडी संख्या में राज्य में निवास करने वाले ईसाई समुदाय को नजरअंदाज कर देता है।

सेना अध्यक्ष ने दावा किया कि यही वजह रही कि पिछले चुनावों में ईसाई समुदाय ने कांग्रेस को वोट नहीं दिया और उसे मात्र 11 सीट ही मिल सकी। उन्होंने कांग्रेस नेतृत्व से अपने समाज को कम से कम एक सीट देने की मांग करते हुये यह भी दावा किया कि तब कांग्रेस को यहां सरकार बनाने से कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर किसी ईसाई को टिकट नहीं दिया तो पहले की तरह इस समाज का कोई वोट कांग्रेस को नहीं दिया जायेगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper