बर्ड फ्लू के मद्देनज़र माघ मेले में विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता : सीएम योगी

सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि माघ मेले के दौरान बर्ड फ्लू के दृष्टिगत विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने प्रयागराज मेला प्राधिकरण को निर्देशित किया कि वह इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करें कि श्रद्धालु पक्षियों को दाना न खिलाएं।

मुख्यमंत्री लोक भवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि बर्ड फ्लू के दृष्टिगत पूरी सतर्कता बरती जाए। बरेली स्थित भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) को वर्तमान में सौपे गए कोविड-19 से सम्बन्धित दायित्वों से मुक्त कर दिया जाए, जिससे यह संस्थान केवल बर्ड फ्लू की जांच पर पूरा ध्यान केन्द्रित कर सके।

लखनऊ में इस दिन से होगी महिला सैन्य पुलिस के लिए खुली भर्ती रैली, जारी किए गए प्रवेश पत्र

श्रद्धालु पक्षियों को दाना न खिलाएं

उन्होंने कहा कि प्रयागराज में शीतकाल में प्रतिवर्ष प्रवासी पक्षियों का आगमन होता है। वर्तमान में वहां माघ मेला आयोजित होने वाला है। ऐसे में माघ मेले के दौरान बर्ड फ्लू के दृष्टिगत विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने प्रयागराज मेला प्राधिकरण को निर्देशित किया कि वह इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करें कि श्रद्धालु पक्षियों को दाना आदि न खिलाएं।

प्रदेश में पशु टीकाकरण का अभियान वृहद स्तर पर हो संचालित

सीएम योगी ने कहा कि पशुओं को खुरपका और मुंहपका बीमारियों से बचाने के लिए प्रदेश में पशु टीकाकरण का अभियान वृहद स्तर पर संचालित किया जा रहा है। उन्होंने इस कार्य को पूरी सक्रियता से जारी रखने के निर्देश दिए।

धान क्रय केन्द्रों पर की जाए शेड की व्यवस्था

उन्होंने एमएसपी के तहत धान खरीद कार्य को पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि क्रय किए गए धान का सुरक्षित भण्डारण सुनिश्चित की जाए। धान क्रय केन्द्रों पर शेड की भी व्यवस्था की जाए, जिससे धान कोहरे से प्रभावित न हो। उन्होंने धान क्रय केन्द्रों पर सुरक्षा के प्रबन्ध किए जाने के निर्देश भी दिए।

प्रतियोगी छात्र-छात्राओं को दी जाय निःशुल्क कोचिंग की सुविधा

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले प्रदेश के छात्र-छात्राओं को निःशुल्क कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होंने इसके अन्तर्गत प्रारम्भिक चरण में यूपीएससी द्वारा संचालित सिविल सेवा परीक्षा के लिए निःशुल्क कोचिंग संचालित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस सुविधा से प्रदेश के युवा इस परीक्षा में स्वयं को अग्रिम पंक्ति में पाएंगे। इस प्रतिष्ठित परीक्षा में राज्य के अधिक से अधिक युवाओं का चयन उन्हें देश व प्रदेश के विकास में अपना योगदान करने का अवसर प्रदान करेगा।

UP ATS ने सेना के एक जवान को किया गिरफ्तार, पाकिस्तान के लिए कर रहा था जासूसी

ट्रैक एवं ट्रेस प्रणाली और सुदृढ़ की जाय 

उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा प्रदेश में फोरेंसिक साइंस के सेन्टर ऑफ एक्सिलेंस की स्थापना में हर सम्भव सहयोग का आश्वासन दिया गया है। उन्होंने इस सम्बन्ध में सभी प्रक्रियाओं को समय से पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने ने कहा कि आबकारी विभाग में विभिन्न कार्यों की बेहतर माॅनिटरिंग के लिए ट्रैक एवं ट्रेस प्रणाली लागू की गई हैं। उन्होंने ट्रैक एवं ट्रेस प्रणाली को और सुदृढ़ करने के निर्देश दिए।

Related Articles

Back to top button
E-Paper