उत्तर प्रदेश विकास के पथ पर चलकर देश की आर्थिक ताकत बनेगा : योगी

मुख्यमंत्री ने सीतापुर में 484.41 करोड़ रु0 लागत की 167 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया

उत्तर प्रदेश विकास के पथ पर चलकर देश की आर्थिक ताकत बनेगा : योगी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सिधौली, जनपद सीतापुर में आयोजित कार्यक्रम में 484.41 करोड़ रुपये लागत की 167 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इनमें 17 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 150 योजनाओं का शिलान्यास शामिल हैं। इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न विभागों की लाभार्थीपरक योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र एवं स्वीकृति पत्र भी प्रदान किए। उन्होंने कहा कि जनपद सीतापुर तेजी से विकास की ओर अग्रसर है।

मुख्यमंत्री  ने इस अवसर पर आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुये जनपदवासियों को विभिन्न विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास की बधाई दी। उन्होंने नैमिषारण्य की पावन भूमि को नमन करते हुये कहा कि जनपद सीतापुर में नैमिषारण्य हजारों वर्षों की विरासत को संजोये हुये है। दुनिया जब अंधकार में  रही थी तब यहां 88 हजार ऋषियों ने तप कर ज्ञान के प्रकाश को सभी ओर प्रसारित किया।

    मुख्यमंत्री  ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं से बड़ी संख्या में जनपद सीतापुर के पात्र लाभार्थी लाभान्वित हुये हैं। जनपद में लगभग सवा दो लाख परिवारों को आवास, 05 लाख से अधिक परिवारों को उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत निःशुल्क गैस कनेक्शन दिया गया है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत प्रदेश में गरीब परिवारों को उपलब्ध कराए गए निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन की संख्या देश में सर्वाधिक है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा तथा सभी के विकास के उद्देश्य से विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही हैं। इनका लाभ बिना किसी भेदभाव के पात्र परिवारों एवं व्यक्तियों तक पहुंच रहा है।

    मुख्यमंत्री  ने कहा कि कोरोना महामारी पर प्रभावी नियंत्रण के लिये व्यापक प्रबंध किये गये हैं। विभिन्न बीमारियों से निपटने के लिये व्यापक चिकित्सा सुविधाओं के प्रबंध किये गये हैं। कोरोना कालखण्ड में गरीब एवं जरूरतमंद परिवारों को निःशुल्क राशन वितरण का कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराया गया। राज्य सरकार द्वारा कराए गए विकास कार्य धरातल पर दिखायी दे रहे हैं। पूर्ववर्ती सरकारों में प्रदेश की जनता अंधेरे से परेशान थी। वर्तमान राज्य सरकार राज्य के सभी जनपदों में निर्बाध विद्युत की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित कर रही है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बेहतर बनाने के साथ ही, बहन-बेटियों की सुरक्षा के पुख्ता इन्तजाम किए हैं। इससे वह भयमुक्त होकर अपना जीवन यापन कर रही हैं। वर्तमान राज्य सरकार ने सार्वजनिक सम्पत्ति को क्षति पहुंचाने, गरीबों, कमजोरों को सतानेे वालों, कानून के साथ खिलवाड़ करने वालो के विरुद्ध बिना किसी भेदभाव के सख्त कार्यवाही की है। राज्य में भय मुक्त वातावरण में सभी पर्व एवं त्यौहार मनाये जा रहे हैं तथा आस्था को सुरक्षा एवं सम्मान देने का कार्य भी प्रदेश सरकार द्वारा किया गया है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि प्रधानमंत्री  के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में केन्द्र एवं प्रदेश सरकार लोक कल्याणकारी के रूप मे कार्य रही है। सभी जनप्रतिनिधिगण शासन की योजनाओं को घर-घर पहुंचाने का कार्य कर रहें, जिससे जनता के सुख व समृद्धि का मार्ग प्रशस्त हो रहा है। प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत प्रदेश में बड़ी संख्या में गरीब और जरूरतमंद लोगों के बैंक खाते खुलवाए गए। वृद्ध, निराश्रित, दिव्यांग पेंशन योजना के लाभार्थियों सहित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों के खाते में योजना के तहत दी जाने वाली धनराशि सीधे भेजी जा रही है। इससे बिचौलियांे से मुक्ति मिली है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश की सरकार किसानों के हित के लिये पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा सत्ता में आते ही 86 लाख लघु एवं सीमान्त किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये का फसली ऋण माफ किया गया। किसान सम्मान निधि योजना के तहत 6000 रुपये वार्षिक किसानों के खाते में डी0बी0टी0 के माध्यम से भेजे जा रहे हैं। महिलाओं, गरीबों, मजदूरों, शोषितों को बिना भेदभाव के जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों मे ग्राम सचिवालय की स्थापना कर प्रत्येक ग्राम पंचायत पर कम्प्यूटर सहायक, बैंक सखी की भर्ती कर बैंकिंग सुविधाओं का लाभ, अन्य योजनाओं की फीडिंग का कार्य ग्राम स्तर पर किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में भव्य  राम मन्दिर का निर्माण कराया जा रहा है। प्रदेश एवं केन्द्र सरकार द्वारा सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के आधार पर कार्य किया जा रहा है। केन्द्र व प्रदेश सरकार गरीबों एवं असहाय लोगों के हितों के लिये दिन-रात बिना रुके, बिना थके, बिना डिगे, बिना झुके निरन्तर कार्य कर रही हैं। प्रत्येक पात्र व्यक्ति को योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। यूपी में सुरक्षा का माहौल है और विगत साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल के दौरान कोई भी दंगा नही हुआ। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश विकास के पथ पर चलकर देश की आर्थिक ताकत बनेगा। प्रदेश में साढ़े चार साल में 4.50 लाख लोगों को सरकारी नौकरी दी गई है। उन्होंने कहा कि आज जितनी परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया जा रहा है, उसका गुणवत्तापूर्ण समय से कार्य पूर्ण कराने का कार्य किया जायेगा।

मुख्यमंत्री द्वारा लोकार्पित परियोजनाओं में 3.13 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित एम0एस0डी0पी0 योजना के अन्तर्गत विकास खण्ड महमूदाबाद के ग्राम लैलखुर्द में राजकीय इण्टर कॉलेज, जनपद सीतापुर के नैमिषारण्य स्थित देव देवेश्वर एवं द्वारिकाधीश मंदिरों का 4.36 करोड़ रुपये की लागत से पर्यटन विकास कार्य, राजकीय हाईस्कूल विशुनपुर, राजकीय हाईस्कूल कुचलई, राजकीय हाईस्कूल जुवापुरवा, राजकीय हाईस्कूल सरौरा, राजकीय हाईस्कूल रघैटा सिरकिडा, राजकीय हाईस्कूल सलारपुर दारापुर, राजकीय हाईस्कूल लालपुर, राजकीय हाईस्कूल पचदेवरा, 19 लाख रुपये की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र महमूदाबाद में ऑक्सीजन प्लाण्ट का निर्माण कार्य, 23 लाख रुपये की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खैराबाद में ऑक्सीजन प्लाण्ट का निर्माण, 01 करोड़ 57 लाख रुपये की लागत से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पोखराकलां का निर्माण, 01 करोड़ 79 लाख रुपये की लागत से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भुड़कुड़ा का निर्माण तथा बाढ़ नियंत्रण हेतु सिंचाई विभाग की 03 परियोजनाएं प्रमुख रूप से शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के लाभार्थियों  चन्द्र प्रकाश,  पवन, सुश्री सरस्वती, सुश्री कविता,  इसरार, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लाभार्थियों  मुन्ना लाल, सुश्री माया देवी,  रामदास, सुश्री सुमन देवी,  जमील को आवास की चाभी सौंपी। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत ग्राम पंचायतों में नवनिर्मित सामुदायिक शौचालयों का संचालन महिला स्वयं सहायता समूहों को प्रदान किये जाने के क्रम में स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं सुश्री सरला कुमारी, सुश्री नाजिया बानों, सुश्री इन्द्र कुमारी दीक्षित, सुश्री सुमन, सुश्री वंदना को सामुदायिक शौचालयों की चाभी प्रदान की। उन्होंने उ0प्र0 मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लाभार्थियों सुश्री मुस्कान चौरसिया,  हर्षिल चौरसिया,  विशाल यादव,  आकर्ष जायसवाल, सुश्री सिमरन जायसवाल को स्वीकृति पत्र प्रदान किया।

मुख्यमंत्री द्वारा सुश्री राशि श्रीवास्तव, सुश्री सृष्टि श्रीवास्तव, सुश्री माही बंसल, सुश्री ज्योति एवं सुश्री अपूर्वा जायसवाल को कन्या सुमंगला योजना का स्वीकृत पत्र प्रदान किया गया। उन्होंने प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना की लाभार्थी सुश्री अनुपमा सिंह को प्रतीकात्मक चेक, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लाभार्थियों  अमित कुमार एवं  मनीष को टूल किट, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लाभार्थी  शैलेन्द्र कुमार को चेक तथा पंचायत सामान्य निर्वाचन-2021 की ड्यूटी में कोविड-19 के संक्रमण से मृत कर्मियों के आश्रितों सुश्री सरोज सिंह तोमर, सुश्री अंजनी देवी, सुश्री शांति देवी, सुश्री सुरभी देशमुख को 30 लाख रुपये की अनुग्रह धनराशि, आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत  रामदास, सुश्री कमला,  रंजीत,  तेजपाल एवं सुश्री विन्देश्वरी को गोल्डेन कार्ड, कृषि विभाग की योजना प्रमोशन ऑफ एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन फॉर इन-सीटू मैनेजमेंट ऑफ क्रॉप रेजीड्यू के अन्तर्गत फार्म मशीनरी बैंक के लाभार्थियों  धीरेन्द्र कुमार,  किशोरीलाल,  सोनू एवं  राधेश्याम को चेक प्रदान किए।

कार्यक्रम में महिला कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती स्वाती सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण व शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper