रामपुर में सीएम योगी का आजम पर निशाना, कहा- भूमाफियाओं को मिला था सत्ता संरक्षण

रामपुर। रामपुर की विरासत को नष्ट करने का षड्यंत्र किया गया। जमीनों को हड़पने के लिए भूमाफियाओं को सत्ता का संरक्षण दिया गया। हमने 147 भूमाफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की और 140 हेक्टेयर जमीन को मुक्त करा लिया। हम रामपुर की विरासत को सहेजकर रखेंगे। रामपुर में 64 करोड़ की 24 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करने पहुंचे मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ के निशाने पर सपा नेता आजम खां रहे। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमारे सामने चुनौती थी कि कोरोना से भी बचना था और लोगों का जीवन भी बचाना था। यही नहीं जो जेल में थे, उनको भी कोरोना से बचाया गया।

रामपुर

रामपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे पर्व और त्योहार शांति के प्रतीक हैं। कुछ लोगों ने रामपुर की विरासत को भी नष्ट करने का षड्यंत्र किया था, लेकिन हम लोग इसीलिए रामपुर आए हैं कि रामपुर की विरासत को सहेजकर रख सकें, लेकिन कुछ लोगों को यह अच्छा नहीं लगता है। उन्होंने कहा कि किसी भूमाफिया को सत्ता के संरक्षण में जमीनों को हड़पने का काम नहीं करने देंगे। गरीबों की सम्पत्ति और व्यापारियों की सुरक्षा के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार कटिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि पर्व और त्योहारों में शांति और सौहार्द्र बिगाड़ने का काम करने वाले, निकम्मे व पेशेवर माफियाओं की अवैध कमाई पर चलने के लिए बुलडोजर हमेशा तैयार रहता है। अगर किसी ने गरीबों की सम्पत्ति पर गलत नजर रखी तो उन्हें बुलडोजर का सामना करना पड़ेगा।

कोरोना काल के दौरान जब पूरी दुनिया मौत के साये में जी रही थी, तब प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में प्रदेश सरकार अपने जनप्रतिनिधियों, कर्मचारी और कोरोना वारियर्स के साथ काम कर रही थी। हमलोगों के सामने चुनौती थी कि कोरोना से भी बचाना था और लोगों का जीवन भी बचाना था। उन्होंने आजम खां का नाम लिए बिना कहा कि जो जेल में थे, उनको भी करोना से बचाया गया।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अन्न और वैक्सीन दोनों मुफ्त, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था। हमारी सरकार से पहले वैक्सीन ही नहीं आती थी तो मुफ्त क्या मिलेगी। आपने देखा होगा कि विपक्ष के नेता घर में बैठे थे। अपने ही कार्यकर्ताओं का हाल नहीं ले रहे थे। उन्होंने अखिलेश यादव पर कटाक्ष किया कि जो अज्ञात बीमारी से भयभीत हो, वह देश की क्या लड़ाई लड़ पाएंगे। प्रधानमंत्री अलग-अलग राज्यों दौरा कर रहे थे और हम प्रदेश का जिलों का दौरा कर रहे थे। हर अधिकारी अपनी अपनी जिम्मेदारी निभा रहा था। आपदा के समय जो आपके साथ खड़ा हो, वही आपका सही सहयोगी है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जो लोग जाति के नाम पर, अन्य किसी वाद के नाम बांटने का प्रयास कर रहे हैं, उनसे सतर्क रहने की जरूरत है। यह विभाजनकारी ताकतें पहले देश का विभाजन करवाती थी, फिर समाज का विभाजन करवाती हैं। विकास के पैसे को अपने परिवार में लगा देती थी। आज देश का पैसा गरीब, नौजवान और समाज के विकास में लगाया जा रहा है। उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है। कहीं किसानों को तो कहीं अन्य लोगों को भड़काने का काम कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पिछले साढे चार वर्ष में तीन हजार करोड़ की विकास योजनाओं को केवल रामपुर जनपद के लिए किया गया है। इसमें विलासपुर विधानसभा में लगभग 1700 करोड़ के कार्यों को बढ़ाया गया है। इसमें 236 कार्य पूर्ण हो चुके हैं। मिलकपुर में 200 करोड़ के कार्यों को बढ़ाया गया। 240 कार्य अभी तक पूर्ण हो चुके हैं। अमरोहा के लिए 351 करोड़ की योजना स्वीकृत हुई, जिसमें 162 कार्य पूरे किए जा चुके हैं। वहीं रामपुर में 402 करोड़ रुपये से 21 कार्य पूरे हो गए हैं। विकास में कोई भेदभाव नहीं होगा और तुष्टीकरण भी किसी का नहीं किया जाएगा। 147 भूमाफियाओं के खिलाफ कार्रवाई हुई है। 140 हक्टेयर जमीन को मुक्त कराया गया। किसान सम्मान निधि 351 करोड़ रुपये किसानों की दी गई है। फसल ऋण मोचन योजना में 259 किसानों को 366 करोड़ 72 लाख रुपये उपलब्ध कराए गए। अन्नदाता किसानों के लिए धान-गेहूं क्रय केन्द्र लगाए गए। गन्ना मूल्य का भुगतान किया गया। यही नहीं रूद्र विलासपुर चीनी मिल के साथ साथ अन्य जर्जर चीनी मिलों को भी आगे बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि चेहरा देखकर नहीं, बल्कि गांव-गरीब और जरूरतमंदों के लिए विकास के काम किए जा रहे है। साढे चार सालों में रामपुर जनपद में एक लाख 70 हजार लोगों के लिए शौचालय, 581 सामुदियक शौचालय और 485 पंचायत भवनों का निर्माण किया गया। ग्राम्य विकास विभाग ने 5262 मकान दिए। रामपुर में एक करोड़ छह लाख 30 हजार मानव दिवस का सृजन करके बेरोजगारों को काम उपलब्ध कराया गया। 50198 लोगों को वृद्धावस्ता पेंशन, शादी अनुदान के तहत 6 हजार 94 कन्याओं की शादी, कन्या सुमंगला योजना में 4032 बालिकाओं और 45845 निराश्रित महिलाओं को पेंशन का लाभ दिया गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper