आयोग ने खारिज की धीमी मतगणना की बात, कहा- बूथ बढ़ने से रिजल्ट में होगी देर रात

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव में अब तक एक करोड़ वोटों की गिनती हो चुकी है। जबकि चार करोड़ दस लाख वोट पड़े हैं। इस प्रकार तीन करोड़ दस लाख वोटों की गिनती होनी बाकी है। चुनाव आयोग का कहना है कि मतगणना के आखिरी नतीजे आने में देर रात हो सकती है। कई सेंटर पर 51 राउंड तक मतगणना चलेगी।

धीमी मतगणना

डिप्टी इलेक्शन कमिश्नर सुदीप जैन, चंद्रभूषण कुमार और आशीष कुंद्रा ने दोपहर डेढ़ बजे संयुक्त रूप से प्रेस कांफ्रेंस कर बिहार चुनाव में धीमी गति से मतगणना के आरोपों को खारिज कर दिया। चुनाव आयोग ने कहा कि कोरोना के कारण इस बार 63 प्रतिशत बूथों की संख्या बढ़ाई गई थी। जिससे अधिक ईवीएम की काउंटिग होनी है। इस नाते मतगणना में अधिक समय लगेगा।

आयोग के मुताबिक, 2015 के विधानसभा चुनाव में 65 हजार बूथ थे, इस बार एक लाख 26 हजार बूथ बने। ऐसे में मतगणना में अधिक समय लग रहा है। चुनाव आयोग ने बताया कि पोस्टल बैलेट में पिछली बार की तुलना में इजाफा हुआ है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper