कांग्रेस के पदयात्रा से राज्य में हुआ कोरोना विस्फोटः अरागा ज्ञानेंद्र

कर्नाटक के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने मेकेदातु पदयात्रा को राज्य में कोरोना संक्रमण को तेजी से फैलाने वाली यात्रा करार देते हुए कांग्रेस पर आरोप लगाया कि इस यात्रा के कारण न केवल प्रमुख कांग्रेसी नेता बल्कि हजारों की संख्या में लोग भी संक्रमण की चपेट में आये।
श्री ज्ञानेंद्र ने कहा,“मेकेदातु पदयात्रा में शामिल होने के बाद राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकाजुर्न खड़गे तथा सी एम इब्राहीम सहित कई अन्य कांग्रेस नेता कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार इस यात्रा में शामिल हुए हजारो लोग संक्रमण का शिकार हुए हैं।”
उन्होंने संवाददाताओं से गुरुवार देर रात बात करते हुए कहा,“मेकेदातु पदयात्रा एक ‘कोविड सुपर स्प्रेडर्स हब में बदल गई है।” उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय ने स्वास्थ्य मंत्रालय से पदयात्रा में शामिल होने के बाद संक्रमित हुए सभी लोगों पर नजर बनाए रखने के लिए कहा है।
उन्होंने कहा कि संविधान के हिसाब से सभी राजनीतिक दल को आंदोलन और विरोध करने का अधिकार है लेकिन कोरोना के तीसरी लहर से उबरने के बाद ही सरकार इसके लिए अनुमति देगी।
भारतीय जनता पार्टी के विधायक ज्ञानेंद्र ने पूछा,“यह पदयात्रा किसके खिलाफ की जा रही है? क्या हमारी सरकार या भाजपा परियोजना के खिलाफ है? इस पदयात्रा का कोई मतलब नहीं था क्योंकि पदयात्रा करने का फायदा तब होता जब इसको द्रमुक सरकार के खिलाफ किया गया होता क्योंकि वह इस परियोजना के खिलाफ अदालत में गयी है।”
गौरतलब है कि तमिलनाडु में सत्तारुढ़ द्रमुक की कांग्रेस सहयोगी पार्टी है। द्रमुक सरकार मेकेदातु परियोजना के खिलाफ अदालत की शरण में गयी है।
बहरहाल नौ जनवरी को शुरू हुई ग्यारह दिन लंबी पदयात्रा पर कांग्रेस ने अस्थायी रुप से रोक लगा दी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper