संसद के केंद्रीय कक्ष में शुक्रवार को मनाया जाएगा संविधान दिवस

नयी दिल्ली. आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष में मनाए जा रहे आजादी के अमृत महोत्सव के तहत शुक्रवार को संसद के केंद्रीय कक्ष में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नेतृत्व में संविधान दिवस मनाया जाएगा।

    संसदीय कार्य मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि संसद के केंद्रीय कक्ष में सुबह ग्यारह बजे राष्ट्रपति के संबोधन के साथ इस समारोह की शुरुआत होगी। इस मौके पर उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, लोकसभा अध्यक्ष,  केंद्रीय मंत्री, सांसद तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहेंगे। इस कार्यक्रम का संसद टेलीविजन तथा दूरदर्शन और ऑनलाइन पोर्टल के जरिए सीधा प्रसारण किया जाएगा।

    राष्ट्रपति के संबोधन के बाद समूचे देश के नागरिक अपनी-अपनी जगह से उनके साथ संविधान की प्रस्तावना को पढ़ेंगे। सभी देशवासियों को संविधान की प्रस्तावना पढ़ने के लिए इस कार्यक्रम से ऑनलाइन जोड़ने के लिए एक पोर्टल विकसित किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से देशवासी 22 आधिकारिक भाषाओं और अंग्रेजी में संविधान की प्रस्तावना का पाठ कर सकेंगे। सामान्य लोगों के साथ साथ सभी मंत्रालयों ,विभागों, राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों,  स्कूलों , कॉलेज,  विश्वविद्यालय, संस्थान, संगठनों और बार कौसिल आदि से अनुरोध किया गया है कि वे कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी-अपनी जगह से संविधान की प्रस्तावना का पाठ करें। लोगों को इसकी जानकारी देने के लिए रेडियो टेलीविजन और सोशल मीडिया के माध्यम से बताया जा रहा है। इसके अलावा संवैधानिक लोकतंत्र पर ऑनलाइन क्विज के लिए भी एक पोर्टल की शुरूआत की गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper