ममता सरकार के इस प्रस्ताव का समर्थन नहीं करेंगे माकपा-कांग्रेस, जानिए पूरा मामला

ममता

कोलकाता: पश्चिम बंगाल विधानसभा में गुरुवार को ममता बनर्जी की सरकार गत 23 जनवरी को नेताजी जयंती पर केंद्र सरकार की ओर से आयोजित  कार्यक्रम में जय श्री राम का नारा लगाए जाने के खिलाफ निंदा प्रस्ताव लाने जा रही है। तो वहीं ये भी स्पष्ट हो गया है कि ममता सरकार द्वारा लाए गए निंदा प्रस्ताव का समर्थन माकपा-कांग्रेस के विधायक नहीं करेंगे ।

शिमला: खाई में गिरी पर्यटकों का गाड़ी, दो लोगों की मौके पर मौत, कई घायल

इस बात की संभावना जताई जा रही थी कि विधानसभा में माकपा और कांग्रेस के विधायक भी ममता बनर्जी का साथ दे सकते हैं। लेकिन स्पष्ट हो गया है कि ममता सरकार द्वारा लाए गए इस निंदा प्रस्ताव का समर्थन माकपा कांग्रेस के विधायक नहीं करेंगे।

दोनों पार्टियों का आरोप है कि राज्य में  विपक्ष के नेता के साथ  हमेशा  अपमानजनक व्यवहार  होता रहा है और ममता बनर्जी ने कभी भी इसके खिलाफ ठोस कदम नहीं उठाया। दोनों दलों के नेताओं ने कहा कि अगर यह प्रस्ताव लाया जाता है तो दोनों दल तब तक इसका समर्थन नहीं करेंगे जब तक कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी स्वयं प्रदेश में संविधान एवं विपक्ष का सम्मान सुनिश्चित नहीं करती हैं। बता दें कि पश्चिम बंगाल में दो दिन का विशेष विधानसभा सत्र बुलाया गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper