पक्षियों पर संकट: नागौर में 52 मोर समेत 66 पक्षियों की मौत, कई घायल

अजमेर संभाग के नागौर जिले में मकराना उपखंड के ग्राम कालवा बड़ा में शुक्रवार को किसी जहरीले पदार्थ के खाने से 52 मोर सहित कई छोटे पक्षी मर गए। मौके पर पहुंची चिकित्सा विभाग की टीम लगभग 50 मोर का उपचार कर उन्हें बचाने की कोशिश कर रही है। वहीं 2 टीम बना कर मृत मोर का पोस्टमार्टम किया जा रहा है। कुचामन से डीडीएल की टीम को भी मौके पर बुलाया गया।

After Jhalawar and Jodhpur, now 66 birds including 52 peacocks died in  Nagaur, rajasthan | झालावाड़ और जोधपुर के बाद अब नागौर में 52 मोर समेत 66  पक्षियों की मौत, कई घायल भी मिले - Dainik ...

कालवा बड़ा के सरपंच दिलीप सिंह ने बताया कि सुबह घर से बाहर आने पर एक बरगद के पेड़ नीचे काफी संख्या में मोर मृत मिले जिसकी सूचना तुरंत प्रशासन को दी गई। सूचना पर नायब तहसीलदार गजेंद्र सिंह मय टीम मौके पर पहुंचे। पशु चिकित्सा विभाग की टीम ने भी मौके पर पहुंच कर घायल पक्षियों का उपचार शुरू किया।

डीडवाना रेंज के रेंजर अर्जुन राम कड़वा ने बताया कि कालवा बड़ा में 52 मोर, 1 कौआ, 5 कबूतर, 6 कमेडी तथा 2 गुरसलि मृत मिली है। कुछ पक्षी घायल मिले हैं, जिनका उपचार चल रहा है। शाम तक मरने वाले पक्षियों की संख्या बढ़ भी सकती है। पशु चिकित्सा प्रभारी सालग राम पूनिया के अनुसार मृत तथा घायल पक्षियों में पाए गए लक्षणों के अनुसार मोरों के जहरीला पदार्थ खाने की संभावना है जिन पक्षियों का इलाज चल रहा है उनमें सुधार हुआ है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper