महाराष्ट्र में इस दिन होगा लॉकडाउन का फैसला, उद्धव की मीटिंग में सहमति

हस्तियों

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों के बढ़ती संख्या के मद्देनजर मुख्यमंत्री बुधवार को मंत्री समूह की बैठक में सूबे में लॉकडाउन का निर्णय लेने वाले हैं। रविवार को मुंबई में हुई बैठक में टास्क  फोर्स ने राज्य में कोरोना का चेन ब्रेक करने के लिए 14 दिन का लॉकडाउन लगाने की सिफारिश की है।

जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र में कोरोना के कहर को देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे खुद आठ दिन के लॉकडाउन के पक्ष में हैं, लेकिन उन्होंने इस संदर्भ में सभी राजनीतिक दलों की व विशेषज्ञों के साथ चर्चा करना जारी रखा है। शनिवार को मुख्यमंत्री ने सभी राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ चर्चा की थी। मुख्यमंत्री रविवार को इसी सिलसिले में कोरोना उपचार के लिए बनाए गए टास्क फोर्स के साथ दो घंटे से अधिक चर्चा की। इस बैठक में टास्क फोर्स के सदस्य व स्वास्थ्य विभाग के सचिव तात्याराव लहाने ने राज्य में कोरोना का चेन ब्रेक करने के लिए 14 दिन का लॉकडाउन लगाए जाने की सिफारिश की। बैठक में कोरोना को लेकर की जा रही उपाय योजना पर भी चर्चा की गई। बैठक में मुख्यमंत्री सिर्फ आठ दिन का लॉकडाउन का सुझाव दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे से भी चर्चा की। इसके बाद मुख्यमंत्री सूबे में लॉकडाउन के बारे में निर्णय बुधवार को मंत्री समूह की बैठक में किए जाने का निर्णय लिया है।

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि मुख्यमंत्री राज्य में आठ दिन का लॉकडाउन लगाए जाने के पक्ष में हैं। इस संबंध में बुधवार को मंत्री समूह की बैठक में निर्णय लिया जाएगा। टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना का चेन तोडऩे के लॉकडाउन के अलावा कोई रास्ता नहीं है। आज टास्कफोर्स की बैठक में बेड की उपलब्धता, आक्सीजन की आपूर्ति, वेंटिलेटर आदि के बारे में चर्चा की गई है। राजेश टोपे ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए राज्य सरकार युद्ध स्तर पर काम कर रही है। राज्य सरकार कोरोना की मृत्युदर कम करने के लिए काम कर रही है।

अल्पसंख्यक विभाग के मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि राज्य में कोरोना का चेन तोडऩा बिना  लॉकडाउन लगाए संभव नहीं है। मुख्यमंत्री इस संबंध में निर्णय लेंगे। मलिक ने कहा कि लॉकडाउन में जीवनावश्यक सेवाएं किसी भी तरह बाधित नहीं होने दी जाएगी।  

Related Articles

Back to top button
E-Paper