पंचायत का फरमान : जो किसान आंदोलन में दिल्ली नहीं जाएगा, वो भरेगा जुर्माना, होगा बहिष्कार

फरीदकोट। दिल्ली में जारी किसान आंदोलन को लेकर फरीदकोट के पक्खीकला गांव की पंचायत ने फरमान जारी किया है कि गांव से हर आठ दिन बाद 18 लोग दिल्ली को कूच करेंगे। यह भी संकल्प पारित हुआ है कि अगर कोई भी व्यक्ति दिल्ली नहीं कूच करेगा तो उसे 5000 हजार रुपये जुर्माना देना पड़ेगा अगर जुर्माना नहीं देगा तो उसका बहिष्कार किया जाएगा।

पंचायत

पंचायत के इस फैसले का गांववासियों ने स्वागत किया और दिल्ली जाने पर पूरी सहमति जताई है। दिलचस्प ये है कि शनिवार को ही यह फैसला लिया गया और उसी दिन पहला जत्था दिल्ली कूच को तैयार भी हो गया।

ममता बनर्जी को एक बार फिर लगा बड़ा झटका, TMC के 5 कद्दावर नेता बीजेपी में शामिल

गांव के सरपंच कुलविन्दर सिंह ने बताया कि गांव के लोगों से सहयोग प्राप्त हो रहा है। अगर सरकार ट्रेन बंद करती है तो वह अपनी गाड़ियों से दिल्ली कूच करेंगे। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को 26 जनवरी को जो नुकसान हुआ है, अब इस आंदोलन को फिर से मजबूत करन के लिए हम गांववासियों ने यह फैसला लिया है।

सरपंच ने यह भी बताया कि यह भी संकल्प पारित हुआ है कि अगर कोई व्यक्ति नहीं जाता है तो उसे 5000 हजार रुपये जुर्माना देना पड़ेगा अगर जुर्माना नहीं देगा तो उसका बहिष्कार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब तक कृषि कानून वापस नहीं लिए जाएंगे, तब तक हम आंदोलन करते रहेंगे।

Related Articles

Back to top button
E-Paper