रोजगार के हक की लड़ाई की लौ बुझने न दें यूपी के युवा: प्रियंका गांधी

लखनऊ. लखनऊ में कैंडल मार्च निकाल रहे युवाओं पर पुलिस कार्रवाई की निंदा करते हुये कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि अंधेरगर्दी का पर्याय बन चुकी योगी सरकार युवा शक्ति को लाठी से पीट रही है।

       प्रियंका ने ट्वीट किया “ उप्र के युवा हाथों में मोमबत्तियों का उजाला लेकर आवाज उठा रहे थे कि ‘रोजगार दो

लेकिन, अंधेरगर्दी की पर्याय बन चुकी योगी जी की सरकार ने उन युवाओं को लाठियां दीं। युवा साथियों, ये कितनी भी लाठियां चलाएं, रोजगार के हक की लड़ाई की लौ बुझने मत देना। मैं इस लड़ाई में आपके साथ हूं।”

       पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पिछड़ों दलितों की संतानों पर लखनऊ में पुलिस की यह लाठियां क्रूर भाजपा सरकार और घमंडी मुख्यमंत्री के सत्ता में आखिरी कील साबित होगी। 69000 शिक्षक भर्ती में ओबीसी,एससी/एसटी अभ्यर्थियों की हकमारी उत्तर प्रदेश नहीं भूलेगा। कांग्रेस इस लड़ाई में बेरोजगार युवाओं  के साथ खड़ी है और उनके साथ किसी भी कीमत पर अन्याय नहीं होने देगी।

     उन्होने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से संचालित प्राथमिक विद्यालयों में 69 हजार शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में आरक्षण नियमों के अनुपालन में व्यापक स्तर पर घोटाला हुआ है। सरकार इसकी जांच कराने की बजाय अभ्यर्थियों के साथ लगातार दमनकारी रवैया अपनाते हुए लाठी-डंडों से पीटने जैसा क्रूरता का अमानवीय व्यवहार कर रही है।

     कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि लगातार प्रतियोगी परीक्षाओं का पेपर लीक होना और भर्तियों में व्यापक स्तर पर घपला घोटाला करना उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की पहचान बन चुकी है । बेरोजगारों के दम पर पूर्ण बहुमत में आने वाली बीजेपी की योगी सरकार में सबसे ज्यादा बेरोजगारों को ही ठगा गया। आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में अब उत्तर प्रदेश का युवा बेरोजगार ही प्रदेश से बीजेपी का सफाया कर इनका अहंकार चूर करेगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper