अमेरिकी संसद में ट्रम्प समर्थकों का हिंसक प्रदर्शन, एक महिला की मौत

अमेरिकी संसद

वॉशिंगटन:

वॉशिंगटन: निवर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के समर्थकों ने अमेरिकी संसद ‘कांग्रेस’ में घुसकर हंगामा किया और जमकर उत्पात मचाया है। इस दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई है। जिसमें एक महिला की गोली लगने से मौत हो गई। हंगामें और हिंसा की वजह से स्थित बिगड़ गई और वॉशिंगटन डीसी में कर्फ्यू लागू हो गया। हंगामे के दौरान ट्रंप समर्थकों और पुलिस में हिंसक झड़प हुई जिसमें कई घायल हो गए।

यह हंगामा उस वक्त हुआ जब अमेरिकी संसद में इलेक्टोरल कॉलेज को लेकर बहस चल रही थी। इस मीटिंग में जो बाइडन की चुनावी जीत की पुष्टि की जानी थी। इस हिंसक घटना के बाद अमेरिका की हर तरफ निंदा हो रही है।

निवर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के समर्थकों ने अमेरिकी संसद ‘कांग्रेस’ में घुसकर हंगामा किया और जमकर उत्पात मचाया है। इस दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई है।

दरअसल अमेरिकी कांग्रेस में इलेक्टोरल कॉलेज को लेकर बहस चल रही थी, यहां जो बाइडन के जीत की पुष्टि की जानी थी।

कांग्रेस के निचले सदन की सभापति डेमोक्रेट नैन्सी पेलोसी ने नेशनल कोस्ट गार्ड को राजधानी की सुरक्षा के निर्देश दिए हैं। वाशिंगटन डीसी मेयर ने रात्रि कर्फ़्यू की घोषणा कर दी है।

उधर, ट्रम्प समर्थकों ने कैपिटल हिल को घेर लिया है। बाजार बंद हो गए हैं। ट्रम्प समर्थक कांग्रेस के उच्च सदन में घुस चुके हैं। कुछ महिलाओं के लहू लूहान होने की शंका बताई जा रही है। मीडिया के अनुसार कैपिटल हिल भवन से एक लहूलूहान महिला को स्ट्रेचर से बाहर लाया गया है। स्थिति के भयावह होने के उपरांत उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने विवशता जताई है, तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प शांतिपूर्ण माहौल की अपील कर रहे हैं। माइक पेंस ने कहा है कि वह विवश हैं।

कैपिटल हिल में मौजूद उपराष्ट्रपति निर्वाचित कमला हैरिस और कांग्रेस के निचले सदन की सभापति नैन्सी पेलोसी सुरक्षित हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper