अवैध खनन में लगे डम्फर व ट्रक ने मारी टक्कर, सिपाही व पीआरडी जवान की मौत

रायबरेली। सूबे में खनन माफिया बेखौप हैं। उन्हें किसी का भी नहीं है। शनिवार देर रात रायबरेली में घाटी घटना तो यही साबित करती है। रायबरेली में अवैध खनन रोकने से बौखलाये खनन माफिया ने डम्फर से पीआरवी वाहन को टक्कर मार दी, जिसमें एक सिपाही की मौत हो गई। घटना के बाद डम्फर को पकड़ने में लगी एक दूसरे पीआरवी वाहन को भी ट्रक ने अपनी चपेट में ले लिया, जिसमे एक पीआरडी जवान की मौत हो गई। तीन लोगों को गंभीर चोटें आई हैं, जिन्हे अस्पताल में भर्ती किया गया है।

जानकारी के मुताबिक़ मिल एरिया थाना क्षेत्र के हरदासपुर में काफी दिनों से मिट्टी का अवैध खनन किया जा रहा था। शनिवार देर रात एक पीआरवी ने जब डम्फर को रोकना चाहा तो उसने रुकने के बजाय पुलिस की गाड़ी पर ही डम्फर चढ़ा दिया और मौके से भाग निकला। घटना में मौक़े पर ही पीआरवी 1742 के आरक्षी उमेश कुमार की मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल हो गए।

इस दुस्साहिक घटना की जानकारी मिठे ही डम्फर को पकड़ने में पुलिस की कई टीमें लग गई। इसमें सुल्तानपुर रोड पर रेयान स्कूल के पास नाकेबंदी कर वाहनों को रोकने के प्रयास में एक पीआरवी वाहन को ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। ट्रक की टक्कर से पीआरवी में मौजूद पीआरडी जवान राजदेव की मौक़े पर ही मौत हो गई, जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। इसमें एक पीआरडी जवान मेवालाल को लखनऊ रेफर किया गया है। अन्य सभी घायलों का जिला अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। ट्रक चालक को मौके पर पकड़ लिया गया है।

इस दुस्साहिक घटना के बाद पुलिस नेडम्फर चालक को भी पकड़ लिया है। पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया डम्फर चालक को लापरवाही से गाड़ी चलाने के लिए टोका गया था, बावजूद इसके उसने पीआरवी को टक्कर मार दी। डम्फर चालक को गिरफ़्तार कर लिया गया है और दोनों पर मुकदमा दर्ज कर विधिक कारवाई की जा रही है।

उल्लेखनीय है कि रायबरेलीमें अवैध खनन का कारोबार चल रहा है। इस धंधे में कई बार पुलिसकी मिलीभगत भी सामने आई है। हालांकि किसी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। ताजा घटना के बाद पुलिस सक्रिय नजर आ रही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper