पृथ्वी की निगरानी अब और ज्यादा होगी बेहतर, इसरो ने लॉन्च किया अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट

श्रीहरिकोटा। भारत के पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल राकेट ने शनिवार को यहां से रडाल इमेजिंग सैटेलाइट ईओएस-01 (अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट) के अलावा नौ विदेशी सैटेलाइट्स के साथ सफल उड़ान भरी।

सैटेलाइट

10 सैटेलाइट्स के साथ रॉकेट ने भारतीय समयानुसार दोपहर 3.02 बजे सतीश धवन स्पेस सेंटर (एसडीएससी) के पहले लॉन्च पैड से उड़ान भरी। PSLV के जरिए जो नया satellite अंतरिक्ष में भेजा जा रहा है उसके जरिए पृथ्वि पर निगरानी ज्यादा बेहतर हो सकेगी।

यह satellite बादलों के बीच भी पृथ्वी को देखा सकता है और साफ तस्वीर खींचकर भेज सकता है। दिन हो या रात, यह कभी भी तस्वीर खीच सकता है जो निगरानी के लिए बहुत मददगार साबित होगा।

इस रॉकेट वैरिएंट का इस्तेमाल पहली बार 24 जनवरी 2019 को ऑर्बिट माइक्रोसेट आर सैटेलाइट में किया गया था। PSLV एक चार स्टेज/इंजन रॉकेट है, जो ठोस और तरल ईंधन द्वारा वैकल्पिक रूप से छह बूस्टर मोटर्स के साथ संचालित किया जाता है, जो शुरुआती उड़ान के दौरान उच्च गति देने के लिए पहले चरण पर स्ट्रैप होता है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper