हुगली जिले की कई मतदान केन्द्रों पर हिंसा, फलुई में टीएमसी कार्यकर्ता की मौत

मां

हुगली। विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में आज हुगली जिले की आठ सीटों पर मतदान के बीच कई स्थानों पर हिंसा होने और भाजपा के उम्मीदवारों और कार्यकर्ताओं पर हमला होने की खबर मिली है। गाेघाट विधानसभा क्षेत्र में वोट डालकर निकल रहे टीएमसी के बूथ अध्यक्ष की गिरने से मौत हो गई। आरोप है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं ने उनसे धक्का मुक्की की थी, जिससे वह गिर कर घायल हो गए थे। आरोप-प्रत्यारोप के बीच आरामबाग से तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार पर मतदाताओं को धमकाने का आरोप लगा है।

गोघाट विधानसभा क्षेत्र के बदनगंज इलाके में सोमवार को एक भाजपा कार्यकर्ता पर टीएमसी के गुंडों के हमला किया था। उसे बचाने आई उसकी मां माधवी अदक पर भी टीएमसी के गुंडों ने उनपर भी हमला किया था। इस घटना में माधवी की मौत हो गई थी। इस घटना को लेकर मंगलवार को गोघाट में पूरे दिन तनाव बना रहा। मंगलवार को इसी विधानसभा क्षेत्र के फलुई मतदान केन्द्र पर वोट डालकर निकलते समय टीएमसी के वृद्ध बूथ अध्यक्ष सुनील राय के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से धक्का मुक्की की। इस घटना में टीएमसी के बूथ अध्यक्ष राय गिर पड़े और उनकी मौत हो गई।

मंगलवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि आरामबाग में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) उम्मीदवार सुजाता मंडल खां ने मतदाताओं को धमकाकर चुनावी प्रक्रिया प्रभावित करने की कोशिश की है। अलग-अलग स्थानों पर दो बार ग्रामीणों ने सुजाता मंडल खां को घेरकर विरोध में प्रदर्शन किया। टीएमसी उम्मीदवार मंडल ने मीडिया के सामने यह जरूर कहा कि भाजपा के लोगों ने उनप र हमला किया है, जिसमें वे चोटिल हुई हैं।

खानाकुल में भी टीएमसी उम्मीदवार मुंशी नजीबुल करीम पर बूथ पर जाकर मतदाताओं को प्रभावित करने का आरोप लगा है। इस पर ग्रामीणों ने तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार करीम को घेर लिया। बड़ी मुश्किल से पुलिस और केंद्रीय बल ने करीम को ग्रामीणों के बीच से निकाला। खानाकुल के हीरापुर इलाके के निवासियों ने आरोप लगाया कि टीएमसी के गुंडों ने उन्हें बूथ तक नहीं पहुंचने दिया।

तारकेश्वर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार स्वपन दासगुप्ता के चुनाव एजेंट अरिंदम भट्टाचार्य पर टीएमसी के गुंडों ने हमला कर दिया। इस घटना में अरिंदम भट्टाचार्य का सिर फट गया। इसके अलावा तारकेश्वर में कई स्थानों पर भाजपा उम्मीदवार स्वपन दासगुप्ता के साथ बदसलूकी की भी खबरें आई हैं।

इसी तरह से धनियाखाली विधानसभा केंद्र इलाके में स्थानीय टीएमसी उम्मीदवार असीमा पात्र पर भी मतदाताओं को प्रभावित करने का आरोप लगा। वहीं, जंगीपाड़ा में भी चुनाव के दिन काफी तनाव रहा। आईएसएफ और टीएमसी कार्यकर्ता कई बार आमने-सामने आ गए लेकिन पुलिस और केंद्रीय बलों की तत्परता से बवाल टल गया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper