अयोध्या में तोड़ा गया प्रवेश द्वार, 70 लाख की लागत से सपा कार्यकाल में बनाया गया था

अयोध्या का प्रवेश द्वार गुरुवार को तोड़ दिया गया। इसे समाजवादी पार्टी (सपा) के कार्यकाल में 70 लाख रुपए की लागत से बनवाया गया था। प्रवेश द्वार के संकरा होने के कारण इसे तोड़ने के लिए पिछले 3 साल से प्रयास चल रहा था।

समाजवादी पार्टी(सपा) के प्रवक्ता व पूर्व राज्यमंत्री तेजनारायण पांडे पवन ने अयोध्या के प्रवेश द्वार का निर्माण कराया था। उनके समय में भी इस द्वार की चौड़ाई कम होने के कारण इसका विरोध हुआ था। उसके बाद प्रवेश द्वार को फिर एक बार और चौड़ा किया गया था।

कोरोना केस कम होने के बाद रामलला के दर्शनार्थियों की संभावित भीड़ को देखते हुए नयाघाट से राम जन्मभूमि मार्ग का निर्माण शुरू करने की कोशिश की जा रही है। वहीं स्थानीय लोगों के मुताबिक दीपोत्सव के दौरान अयोध्या का प्रवेश द्वार आकर्षण का केंद्र रहा है।

सपा का विरोध

वहीं समाजवादी पार्टी(सपा) के प्रवक्ता तेज नारायण पांडे पवन ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि इस प्रवेश द्वार का तोड़ा जाना किसी भी तरह उचित नहीं है। यह सब मात्र एक राजनीतिक विरोध के कारण ऐसा किया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper