कोरोना वायरस के बीच इस राज्‍य में एक और वायरस की एंट्री, पेंड़ों से गिरकर मर रहे कौवे

मंदसौर। एक तरफ जहां कोरोना वायरस अभी खत्‍म भी नहीं हो पाया है, दूसरी तरफ एक और वायरस ने दस्‍तक दे दी है। दरअसल मध्य प्रदेश और राजस्थान में बर्ड फ्लू के मामले सामने आए हैं। यहां मृत पाए गए कौवों में बर्ड फ्लू वायरस की पुष्टि हुई है। एमपी के इंदौर में मृत मिले कौवों में बर्ड फ्लू वायरस की पुष्टि हुई है।

वायरस

मध्‍य प्रदेश के मंदसौर में बर्ड फ्लू के चलते कौवों के मरने का क्रम लगातार जारी है। कोर्ट परिसर में जहां अब तक 200 कौवे मर चुके हैं, वहीं सोमवार को फिर 4 कौवों की मौत कोर्ट परिसर में ही हुई है, जिन्हें कई लोगों ने तड़पते हुए अपनी आंखों से देखा।

फिर बेनतीजा रही किसानों के साथ बातचीत, भारत सरकार ने मांगा 8 जनवरी तक का समय

लोगों ने बताया कि कोर्ट परिसर में कई दिनों कोवों की लगातार मौत हो ही है। अचानक उड़ते-उड़ते ही किसी कौवे की गर्दन टूट जाती है तो किसी के पंख काम करना बंद कर देते हैं और वह जमीन पर आकर गिर जाते हैं। सोमवार को भी चार कौएं आसामान में उड़ते हुए अचानक से नीचे गिर गये और तड़पते हुए दम तोड़ दिया। जानकारों के अनुसार यह बर्ड फ्लू की आशंका है।

उल्लेखनीय हैं कि राजस्थान के झालावाड़ व जयपुर सहित अन्य जिलों में बड़ी तादाद में कौवों की मौत में खतरनाक वाइरस की पुष्टि के बाद सरकार ने बर्ड फ्लू का अलर्ट जारी कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि पशुपालन विभाग ने राज्य स्तरीय एक नियंत्रण कक्ष की स्थापना की है और अपनी टीमों को प्रभावित जिलों में कारगर निगरानी के लिए भेजा है। लेकिन मंदसौर जिले में अभी तक ऐसा प्रशासन ने कुछ नहीं किया। पशु चिकित्सा विभाग ने मृत कोओं के सेम्पल लेकर जांच हेतु भेेजे जिनकी रिपोर्ट का इंतजार विभाग और प्रशासन दोनों कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper