यूपी के कुशीनगर में पटाखा फैक्‍ट्री में विस्‍फोट, चार लोगों की मौत, 12 अन्‍य घायल

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के कप्तानगंज कस्बे में सुबह करीब 7 बजे एक अवैध पटाखा फैक्ट्री में आग लग गयी, जिसमें झुलस कर चार लोगों की मौत हो गई और बारह जख्मी हो गये।

कुशीनगर

गोदाम में लगी आग के कारण पटाखों के विस्फोट से सुबह-सुबह ही पूरा कस्बा दहल उठा। सूचना पाकर दमकल की गाड़ियां भी आग बुझाने पहुंच गईंं लेकिन तब तक आग और उससे होने वाले विस्फोट के कारण अगल-बगल के कई मकान भी इसकी चपेट में आ गए थेे। आग पर काबू पाने में फायर ब्रिगेड की टीम को तीन घण्टे लग गए।

कप्तानगंज कस्बे का वार्ड नम्बर 11 काफी घनी आबादी वाला मोहल्ला है। इसी मोहल्ले के निवासी जावेद के मकान में  अवैध पटाखे की फैक्ट्री है। बुधवार की सुबह अभी जावेद और उसके परिजन नींद से उठे ही थे कि रहस्यमय परिस्थितियों में आग लग गई। घर मेंं रखे सिलेंडर में भी विस्फाेट हो गया। गोदाम में लगी आग के कारण  एक के बाद एक पटाखे विस्फोट करने लगे। घर के सदस्य बाहर निकल कर  अपनी जान बचाने की कोशिश करते, तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया।

बगल के नबी हसन की मकान में भी आग लग गई। गली में मकान होने के कारण फायर ब्रिगेड को मुसीबतों का सामना करना पड़ा। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम आग बुझाने की कोशिश में जुट गई मगर एक तरफ से आग पर जहां टीम काबू पा रही थी तो दूसरी तरफ के मकानों में आग की लपटें उठने लगीं।

सूचना पाकर पहुंचे पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह, एडिशनल एसपी अयोध्या प्रसाद सिंह ने मौके का जायजा लिया। एसपी विनोद कुमार सिंह के अनुसार इस घटना में कई लोग झुलसे हैंं। तीन शव निकले गए जिसमे से एक की शिनाख्त नाजिया पुत्री अली हसन के रूप में हुई है । अन्य दोनों शव इतने जल चुके है कि पहचान मुश्किल है।

आग में घिरे जावेद  उसकी बीवी अनवरी , जावेद की मां फातिमा को निकला नही जा सका था। 12 लोग झुलस गए थे। जिन्हें जिला अस्पताल भेज दिया गया है। इनमे चार की हालत बेहद नाजुक बताई गई है।

एसपी ने चार मौतों की पुष्टि की है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper