बाराबंकी में नाराज किसानों ने किया आत्मदाह का प्रयास

बाराबंकी. खाद की कालाबाजारी के चलते किसानों को खाद न मिलने और धान की तौल न होने से नाराज किसानों ने आत्मदाह का प्रयास किया जिसे पुलिस ने समय पर पहुंचकर नाकाम कर कर दिया।

        किसान खाद की कालाबाजारी और क्रय केंद्रों पर धान की तौल न होने से परेशान हैं। इसी के चलते कई दिनों से सैकड़ों किसान जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान फतेहपुर में तीन-चार किसानों ने खुद पर पेट्रोल डाल कर आत्मदाह करने की कोशिश की।  जिसे देखकर पुलिसकर्मी किसानों को रोकने के लिये दौड़े। तभी छीना-झपटी के दौरान पेट्रोल से भरा केन गिर गया। पुलिस ने किसानों को हिरासत में ले लिया है।

         किसान कई दिनों से जिला मुख्यालय पर धरना दे रहे हैं। किसानों का  आरोप है कि उन्हें समय से खाद नहीं मिल रही है। जबकि रात के समय में खाद की कालाबाजारी की जा रही है। वहीं, धान क्रय केंद्रों पर धान की तौल भी नहीं  हो रही है। प्रशासन उनकी मांगों को नहीं मान रहा है। जिससे किसान काफी  परेशान हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper