किसानों का चक्‍काजाम : दिल्ली-एनसीआर में तैनात किए गए 50 हजार जवान, धारा 144 लागू

नई दिल्ली। किसानों के चक्‍का जाम को कांग्रेस ने पूरा समर्थन दिया है। दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ चक्का जाम 3 बजे तक चलेगा। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार वह पहले जैसी गलती इस बार नहीं करेंगे। पहले भी किसानों ने शांतिपूर्ण ट्रैक्टर रैली निकालने का अश्वासन दिया था, बावजूद इसके राजधानी दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हिंसा हुई। इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने भी अपनी कमर कस ली है।

चक्‍का जाम

हालांकि भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने शुक्रवार को ही कह दिया था कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में चक्‍का जाम नहीं होगा। टिकैत ने कहा था कि चक्का जाम के दौरान एंबुलेंस, स्कूल बस, बुजुर्गों, रोगियों, महिलाओं और बच्चों को कोई असुविधा ना हो इसका पूरा ध्यान रखा जाये।

कभी चाय के कप धोता था ये लड़का, अब इस तरह से लाखों रुपए की करता है कमाई

चक्का जाम के आह्वान को देखते हुए पुलिस सभी बॉर्डर पर निगरानी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर रही है।

यहां किये सुरक्षा इंतजाम ज्यादा

किसानों के चक्‍का जाम के आह्वान के बाद पुलिस ने दिल्ली के आईटीओ पर भारी संख्या में सुरक्षाबल को तैनात किया गया है। इसी क्रम में गाजीपुर बॉर्डर, सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर के साथ ही शाहजहांपुर बॉर्डर (दिल्ली-राजस्थान बॉर्डर) पर बड़ी संख्या में सुरक्षाबल को तैनात किया गया है।

50 हजार जवान तैनात

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार दिल्ली-एनसीआर में दिल्ली पुलिस, पैरामिलिट्री और रिजर्व फोर्सेस के करीब 50 हजार जवान तैनात हैं। किसी भी गड़बड़ी के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में कम से कम 12 मेट्रो स्टेशनों को प्रवेश और निकास के लिए अलर्ट पर रखा गया है।

इन इलाकों में धारा 144 लागू

दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए हैं और सभी महत्वपूर्ण इलाकों में पहले ही धारा 144 लागू कर दी गई है। इनमें नई दिल्ली जिला क्षेत्र, कनाट प्लेस, जतंर-मंतर, संसद भवन एवं अन्य इलाकों में धारा 144 लगाई गई है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper