बकरी के दूध में होते हैं औषधीय गुण: पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल

बड़वानी. मध्य प्रदेश के पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि बकरी का दूध बहुत स्वास्थ्यवर्धक होता है। यह पत्तियां खाती है जो औषधीय युक्त होते है। जिसका लाभ इसके दूध के सेवन करने वाले को भी मिलता है।

प्रेम सिंह पटेल ने जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर मध्यप्रदेश के लोगों को स्वास्थ्यवर्धक और सुपाच्य बकरी का दूध विक्रय करने के कार्य का कल शुभारंभ करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि बकरी गरीब की ऐसी गाय होती है, जो कुछ लेती नही बल्कि देती ही देती है। उन्होंने कहा कि बकरी के दूध की उपयोगिता को देखते हुये इसे दुग्ध संघ के माध्यम से प्रदेश में विक्रय का कार्य प्रारंभ किया जा रहा है। इससे जहॉ लोगो को सरलता से मानक स्तर का बकरी दूध निर्धारित मूल्य पर मिलने लगेगा, वहीं बकरी पालन करने वाले जनजातीय समुदाय को भी नया रोजगार उपलब्ध होगा और वे अपने बकरी पालन के परम्परागत व्यवसाय को और बेहतर तरीके से करने लगेंगे। 

कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने बताया कि दूर पहाड़ों पर रहने वाले जनजातीय समुदाय के घर में यदि कोई पशु सहज सुलभ है तो वह बकरी ही है। अब प्रदेश में दुग्ध संघ के माध्यम से बकरी दूध विक्रय का यह प्रयास जनजातीय समुदाय को ओर तेजी से समृद्ध बनायेगा ।

इस दौरान दुग्ध संघ इन्दौर के पदाधिकारियों ने बताया कि बकरी दूध विक्रय की शुरूआत जबलपुर और इंदौर संभाग के आदिवासी बहुल जिलों से एकत्र दूध से होगी। इंदौर संभाग के बड़वानी, धार, झाबुआ और जबलपुर संभाग के सिवनी, बालाघाट जिलों के आदिवासियों से 50 से 70 रूपये प्रति किलो की दर से दूध, इंदौर एवं जबलपुर दुग्ध संघ द्वारा खरीदा जा रहा है। दुग्ध संघ के पार्लर में 200 एमएल की बॉटल में अधिकतम 30 रूपए की दर से यह दूध वर्तमान में जबलपुर और इंदौर दुग्ध संघ के पार्लरों पर उपलब्ध होगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper