यूपी: गोमती नगर रेलवे स्टेशन टर्मिनल स्टेशन बनेगा, लखनऊ मंडल के छोटे स्टेशनों की बढ़ेगी ऊंचाई

गोमती नगर

लखनऊ। रेलवे प्रशासन लखनऊ के गोमती नगर स्टेशन को करीब 40 करोड़ों रुपए की लागत से टर्मिनल स्टेशन बनाएगा। लखनऊ मंडल के प्रमुख स्टेशनों को छोड़कर छोटे स्टेशनों के प्लेटफॉर्मों की ऊंचाई भी बढ़ाई जाएगी।

उत्तराखंड : चमोली में ग्लेशियर टूटने के बाद रुद्रप्रयाग नगर में हाई अलर्ट

इस बार के रेल बजट के अनुसार, उत्तर रेलवे करीब 57 हजार करोड़ रुपये अपनी विभिन्न योजनाओं को पूरा करने में खर्च करेगा। जबकि लखनऊ के गोमती नगर रेलवे स्टेशन को 40 करोड़ रुपए की लागत से टर्मिनल स्टेशन बनाया जाएगा। बजट में पूरा जोर ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने पर है। मेल, एक्सप्रेस और सुपरफास्ट ट्रेनों के साथ कुछ खास ट्रेनों को 160 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ाने के लिए आउटर से लेकर सिंगल रूट को डबल किया जाएगा। लखनऊ मंडल में प्रमुख स्टेशनों को छोड़कर छोटे स्टेशनों के प्लेटफॉर्मो की ऊंचाई बढ़ाई जाएगी। इससे यात्रियों को ट्रेनों में चढ़ने में दिक्कतें नहीं होंगी।

लखनऊ के चारबाग आउटर प्रोजेक्ट को तेजी से पूरा करने की तैयारी

रेलवे के लखनऊ मंडल प्रशासन ने चारबाग आउटर प्रोजेक्ट को तेजी से पूरा करने की तैयारी शुरू कर दी है। इससे आउटर पर ट्रेनें बेवजह लेट नहीं होंगी। दिल्ली से कानपुर और लखनऊ के रास्ते पंजाब के बीच चलने वाली ट्रेनों को 160 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड से चलाने की तैयारी है। इसके  लिए ट्रायल चल रहा है। मुरादाबाद रूट पर ट्रेनों की रफ्तार सुधारी जाएगी। इस रूट पर लूप लाइनें भी बिछाई जाएंगी, ताकि ट्रेनों को बीच में रोकना न पड़े।

मुगलसराय से लखनऊ-मुरादाबाद के रास्ते लूप लाइन बिछाने की तैयारी

रेलवे ने मुगलसराय से लखनऊ-मुरादाबाद के रास्ते अंबाला-जालंधर-अमृतसर तक करीब 149 करोड़ रुपये से लूप लाइन बिछाने की तैयारी कर रहा है। लखनऊ से वाराणसी के बीच पड़ने वाले स्टेशनों के प्लेटफॉर्मों की ऊंचाई भी बढ़ाई जाएगी। इस कार्य में करीब 13 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

ऐशबाग रेलवे स्टेशन को 2.5 करोड़ रुपए की लागत से विकसित करने की तैयारी

रेलवे प्रशासन करीब 2.5 करोड़ रुपए की लागत से लखनऊ  के ऐशबाग रेलवे स्टेशन को विकसित  करेगा। ऐशबाग रेलवे स्टेशन को सेटेलाइट स्टेशन भी बनाया जाएगा। जबकि 50 करोड़ रुपए की लागत से ऐशबाग-मानक नगर स्वतंत्र बाई पास लाइन बनाई जाएगी। ट्रेनें लेट न होने पाए इसलिए आलमबाग रेलवे स्टेशन पर रेल लाइनों की संख्या बढ़ाई जाएगी। इसके अलावा लखनऊ मंडल के ई-श्रेणी के स्टेशनों पर अनारक्षित टिकट की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) डॉ. मोनिका अग्निहोत्री ने सोमवार को बताया कि पर्यटन स्थल और तीर्थ स्थल स्टेशनों को विकसित कर यात्रियों की सुविधाओं के अनुरूप बनाना रेलवे की प्राथमिकता है। लखनऊ मंडल में प्रमुख स्टेशनों को छोड़कर छोटे स्टेशनों के प्लेटफॉर्मो की ऊंचाई बढ़ाई जाएगी। गोमती नगर रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाने का कार्य जोर-शोर से चल रहा है।

उन्होंने बताया कि नौतनवां में नया कंटेनर टर्मिनल इस साल मार्च तक बन जाएगा। इससे लखनऊ के आस-पास के जिलों से नेपाल भेजे जाने वाले सामान की लागत घट जाएगी। इससे व्यापारियों को फायदा होगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper