गोंडा: बिजलीकर्मी बनकर ट्रांसफार्मर बदल ले गया युवक, आपूर्ति बाधित

बिजलीकर्मी

गोंडा। करनैलगंज के दिवली गांव में बगैर विभागीय सूचना के बिजली का ट्राँसफार्मर बदलने का मामला सामने आया है। इस गांव में एक युवक खुद को बिजलीकर्मी बताकर पहुंचा और विभागीय अफसरों के आदेश का हवाला देकर गांव में लगा ट्रासंफार्मर खोल ले गया। इस ट्राँसफार्मर के बदले उसने एक छोटा ट्राँसफार्मर गांव मे लगा दिया। इससे गांव की बिजली आपूर्ति बाधित हो गई है। गांव के लोगों ने इसकी शिकायत अधिशाषी अभियंता से की है। वहीं बिजली विभाग के अफसरों ने इस तरह की किसी भी आदेश से  इंकार किया है।

मामला करनैलगंज के दिवली गांव का है। दिवली निवासी भगौती ने अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड तृतीय करनैलगंज को एक शिकायती पत्र दिया है, जिसमे कहा गया है कि उनके घर के पास में 220 केवीए तीन पिन का ट्रांसफार्मर लगा हुआ था। जिससे पूरे गांव वालों को बिजली आपूर्ति होती थी। बुधवार को मोहम्मदपुर गढ़वार गांव का एक युवक कुछ लोगों के साथ आया और अपने को बिजली कर्मचारी बताते हुए ट्रांसफार्मर खोल ले गया।

पूछने पर कहा कि यह ट्रांसफार्मर ज्यादा आबादी वाले गांव में लगना है। यहां छोटा दो पिन वाला ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है। इस तरह की बातें करते हुए युवक ने बड़ा ट्रांसफार्मर खोल कर छोटा ट्रांसफार्मर लगा दिया। अब छोटे ट्राँसफार्मर से गांव की बिजली आपूर्ति बाधित हो रही है। इस संबंध मे अवर अभियंता एके साहनी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसा हुआ है तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

कैंप लगाकर वसूले 3.50 लाख

गोंडा। बकाया बिजली बिल की वसूली के लिए शनिवार को करनैलगंज में कैंप लगाया गया। कांप में 70 बड़े बकाएदारों से 3.50 रुपये के बकाया बिजली बिल की वसूली की गई। वहीं बिल न जमा करने वाले 20 लोगों के कनेक्शन भी काट दिए गए। विद्युत उपखंड अधिकारी एसके वर्मा ने बताया कि करनैलगंज नगर में बकायेदारों की सूची बनाकर अवर अभियंता आरिफ खान व लिपिक देवेंद्र सिंह एवं बिजली कर्मियों को लगाकर कैंप में गड़बड़ बिजली बिलों को सही करने और बकाया रकम जमा कराने का प्रयास किया गया। जिसमें 70 उपभोक्ताओं से 3.50 लाख की वसूली की गई। 20 लोगों ने पैसा नहीं जमा किया, इसके एवज में उनके कनेक्शन काट दिए गए हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper