सरकार ने बढाया आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल, 3 साल और बने रहेंगे पद पर

नई दिल्ली। सरकार ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास का कार्यकाल 3 साल के लिए बढ़ा दिया है। सरकार ने दास को दिसंबर 2024 तक के लिए तीन वर्षों का सेवा विस्तार दिया है। एक आधिकारिक आदेश में शुक्रवार को यह जानकारी दी गई।

आरबीआई

आदेश में कहा गया कि सरकार शक्तिकांत दास को रिजर्व बैंक गवर्नर के रूप में पुन: नियुक्त कर रही है। उनकी नियुक्ति 10 दिसंबर, 2021 के बाद से तीन वर्षों के लिए की जा रही है। दास को तीन वर्ष का दूसरा कार्यकाल मिलने से वे अब दिसंबर 2024 तक आरबीआई के गवर्नर रहेंगे।

आदेश के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में की गई मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति की एक बैठक में शक्तिकांत दास को फिर से 3 वर्ष के लिए आरबीआई का गवर्नर नियुक्त करने का निर्णय किया गया। गौरतलब है कि दास को 11 दिसंबर, 2018 को आरबीआई का 25वां गवर्नर नियुक्त किया गया था। तब उनका कार्यकाल तीन वर्ष का था।

G-20 Summit : रोम पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, जी-20 शिखर सम्मलेन में होंगे शामिल

6 फरवरी 1957 को जन्मे शक्तिकांत दास ने इतिहास में एम.ए किया है। वे तमिलनाडु कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। रिजर्व बैंक गवर्नर से पहले दास वित्त मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव थे। उन्हें 11 दिसंबर, 2018 को तीन साल की अवधि के लिए रिजर्व बैंक के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया था। इसके अलावा उन्होंने वित्त, कराधान, उद्योग और बुनियादी ढांचे के क्षेत्रों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है। उर्जित पटेल के आरबीआई गवर्नर का पद छोड़ने के बाद उन्हें आरबीआई गवर्नर बनाया गया था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper