गुजरात बंगाल पर शासन करेगा, मैं ऐसा नहीं होने दूंगी : ममता बनर्जी

पुरसुरा (हुगली)। तृणमूल नेता ममता बनर्जी ने रविवार को हुगली के पुरसुरा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित की है। इस दौरान उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात बंगाल पर शासन करेगा, मैं ऐसा नहीं होने दूंगी।  बंगाल सरकार बंगाल पर शासन करेगा।

विधानसभा चुनाव का तीसरा चरण आगामी छह अप्रैल को होगा। चुनाव के तीसरे चरण के मतदान के लिए आज आखिरी अभियान है। रविवार को मुख्यमंत्री ने हुगली और हावड़ा सहित पांच सार्वजनिक बैठकें की। 

ममता बनर्जी ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि ऐसी सरकार देश में पहले कभी नहीं देखी गई। मैंने इतनी खराब राजनीतिक पार्टी नहीं देखी है जो सत्ता में रहकर लोगों का खून करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने दिल्ली से लेकर उत्तर प्रदेश तक एनसीआर के नाम पर लोगों की हत्या की। ममता ने भाजपा के ‘असल परिवर्तन’ के नारे पर भी कटाक्ष किया।

विभिन्न जनसभाओं से भाजपा के शीर्ष नेतृत्व द्वारा बार-बार उठाया है कि तृणमूल के दौर में बंगाल में कोई विकास नहीं हुआ। ममता ने इसके संदर्भ में जवाब देते हुए कहा कि भाजपा कह रही है कि बंगाल में कोई विकास नहीं हुआ है इसलिए बंगाल में परिवर्तन की जरूरत है। मैं कहती हूं, परिवर्तन का नारा मेरा ही है। उसके बाद उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा की पार्टी के लोग यह समझ ले कि जब तक मैं खुद से ना जाऊ तब तक मुझे  हटाना मुश्किल है।

ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल को गुजरात बनाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने पुरसुरा की सभामंच से स्पष्ट संदेश देते हुए कहा कि वे बंगाल को गुजरात नहीं बनने देंगी। उन्होंने कहा कि अगर आपको लगता है कि गुजरात बंगाल पर शासन करेगा, तो मैं ऐसा नहीं होने दूंगी। बंगाल सरकार पर बंगाल पर शासन करेंगी। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार ने कन्याश्री, रूपाश्री, पथश्री, कर्मश्री बनाई है। लेकिन भाजपा ने लोगों की हत्या की है।

ममता ने हुगली जिले के आरामबाग और खानकुल में बाढ़ की स्थिति पर भाजपा के खिलाफ हमला बोला। उन्होंने दावा किया कि उनकी सरकार ने बाढ़ को नियंत्रित करने के लिए बहुत कुछ किया है। उन्होंने उल्लेख किया कि माकपा शासन के दौरान उन क्षेत्रों की स्थिति अब पहले जैसी नहीं है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उन्हें बिना बताए झारखंड से पानी छोड़ा जाता था। उन्होंने इसके लिए बाह्य संघर्ष किया है। उन्होंने कहा कि बाढ़ की स्थिति को नियंत्रित करने के लिए एक ‘मास्टर प्लान’ बनाने का निर्णय लिया जा रहा है। ममता ने दावा किया कि बाढ़ नियंत्रण का काम अगले दिन शुरू हो गया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper