हरियाणा : गृहमंत्री अब हफ्ते में एक दिन लगाएंगे जनता दरबार, स्वास्थ्य कारणों से लिया फैसला

चंडीगढ़ हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज अब सप्ताह में केवल एक दिन ही जनता दरबार लगाएंगे। विज ने यह फैसला स्वास्थ्य कारणों तथा डाक्टरों के परामर्श पर लिया है। गृहमंत्री कोरोना पॉजिटिव होने के बाद कई दिनों तक पीजीआई रोहतक तथा मेदांता मेडिसिटी में भर्ती रहे। अस्पताल से छुट्टी के बाद भी कई दिनों तक वह पूरी तरह से आक्सीजन सपोर्ट पर थे।

हरियाणा

वर्तमान में भी उन्हें समय-समय पर आक्सीजन सपोर्ट की जरूरत पड़ती है। जिसके चलते उन्होंने मार्च माह से प्रत्येक शनिवार को गृहमंत्री अनिल विज पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस अंबाला छावनी में जनता दरबार लगाने का फैसला किया है।

अनिल विज ने सरकार के पिछले कार्यकाल मे सन 2014 में मंत्री पद संभालते ही सर्किट हाउस में जिले के सभी अधिकारियों की एक मीटिंग की थी और उस दौरान उन्होंने सप्ताह में एक बार छावनी रेस्ट हाउस में खुला दरबार लगाने की घोषणा की थी। जिसके बाद से हर सप्ताह मंत्री का खुला दरबार लगता था।

इसके अलावा वह ई-मेल के माध्यम से भी शिकायतें सुनते हैं। कोरोना की चपेट में आने के बाद अभी तक पूर्ण रूप से स्वस्थ न होने के कारण प्रदेश की जनता के लिए गृहमंत्री ने पीडब्ल्यूडी रेस्ट हॉउस में दोबारा से जनता दरबार लगाने की घोषणा की है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper