कोरोना के चलते गृह मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइंस, अब इन गतिविधियों की दी अनुमति

नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना महामारी के खिलाफ देश भर में चलाये जा रहे अभियान के तहत निगरानी रखने, नियंत्रण तथा सतर्कता संबंधी दिशा निर्देश आज जारी कर दिये जिनके तहत कंटेनमेंट जोन के बाहर ऐहतियाती उपायों के साथ अब सभी गतिविधियों की अनुमति दे दी गयी है और राज्य सरकारों को पहले की तरह ही मानक संचालन प्रक्रिया तथा नियंत्रण उपाय लागू करने को कहा गया है।

कोरोना

गृह मंत्रालय द्वारा बुधवार को जारी किये गये दिशा निर्देश एक फरवरी से लागू होंगे। इनमें मौटे तौर पर पहले से लागू उपायों में ज्यादा फेरबदल नहीं किया गया है हालाकि अब सिनेमा हाल पूरी तरह खुल जायेंगे जबकि पहले इन्हें दर्शकों की आधी क्षमता के साथ संचालन की अनुमति दी गयी थी। स्विमिंग पुल भी अब पूरी तरह खोलने के आदेश दिये गये हैं जबकि पहले ये केवल खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिए खोले गये थे। अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा सामान्य बनाये जाने के बारे में अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है।

किसान आंदोलन में हिंसा देख भड़कीं कंगना रनौत, कहा- ‘मेरा सिर शर्म से झुक गया’

दिशा निर्देशों में इस बात पर जोर दिया गया है कि कोरोना महामारी पर नियंत्रण में देश ने पिछले चार महीने के दौरान अब तक जो सफलता हासिल की है उसे बरकरार रखा जाये और किसी तरह की ढिलाई नहीं बरती जाये।  राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि वे देश में कोरोना से संबंधी राष्ट्रीय प्रोटोकोल को सख्ती के साथ लागू करें और मास्क लगाने , हाथ धोने तथा सामाजिक दूरी बनाये रखे जाने पर पूरा जोर दिया जाना चाहिए।

नये दिशा निर्देशों में कंटेनमेंट जोन के बाहर मानक संचालन प्रक्रिया पर अमल करते हुए सभी गतिविधियों की अनुमति दे दी गयी है। सामाजिक, धार्मिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षिणक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हॉल की आधी क्षमता या अधिक से अधिक 200 लोगों के एकत्र होने की अनुमति दी गयी है। सिनेमा हॉल में अब पूरी क्षमता के अनुसार दर्शकों को अनुमति होगी लेकिन ऐहतियाती उपायों पर अमल जरूरी होगा। ऐसे ही स्विमिंग पुल में भी जरूरी ऐहतियात के साथ सभी जा सकेंगे। इन दोनों मामलों में अलग से मानक संचालन प्रक्रिया जारी की जायेगी।

अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा के पूरी तरह सामान्य संचालन के लिए नागरिक उडय्यन मंत्रालय गृह मंत्रालय के साथ सलाह के आधार पर स्थिति अनुसार निर्णय लेगा। जिन गतिविधियों के लिए पहले से मानक संचालन प्रक्रिया लागू है वह उसी तरह जारी रहेगी।

आरोग्य सेतु ऐप के इस्तेमाल को बढावा देने पर जोर दिया जायेगा और पहले से लागू सभी ऐहतियाती उपायों पर अमल जारी रहेगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper