बेटी पैदा होने पर तलाक देने वाले पति समेत 6 के खिलाफ FIR, तलाश में जुटी पुलिस

बेटी पैदा होने पर तलाक

सहारनपुर: बेटी पैदा होने पर पत्नी को अस्पताल में छोड़ने वाले और तीन तलाक देने पति समेत छह लोगों के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। पुलिस अब आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी है।

कानपुर: IIT ने बनाया ‘विभ्रम’ हेलीकॉप्टर, रेस्क्यू और निगरानी में होगा मददगार

कोतवाली मंडी क्षेत्र के मोहल्ला खाता खेड़ी की रहने वाली आयशा का निकाह देवबंद क्षेत्र के गांव भनेड़ा खास के रहने वाले शाहनवाज के साथ हुआ था। पीड़िता के मुताबिक, शादी के बाद से ही उसे दहेज के लिए परेशान किया जाने लगा था। दहेज के लिए उत्पीड़न का मामला महिला थाने भी पहुंचा था। जहां काउंसलिंग के बाद ससुराली पक्ष ने अपनी गलती मान ली थी और समझौता हो गया था। विवाहिता ने अस्पताल में बेटी को जन्म दिया, लेकिन पति बेटे की चाह रखे हुए था। इस पर पति और ससुराल के अन्य लोग विवाहिता को नवजात बच्चे के साथ अस्पताल में ही छोड़कर चले गए।

आठ दिन तक पीड़िता अस्पताल में ही पति और ससुरालियों का इंतजार करती रही, लेकिन कोई नहीं पहुंचा। जब पीड़िता ने अपने पति को फोन किया तो उसने तीन तलाक देने की बात कही और साफ कह दिया कि उसे बेटा चाहिए था। अगर बेटी को जन्म दिया है तो वह उसको लेने नहीं आएगा। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस को पूरी घटना बताई। कोतवाली मंडी पुलिस ने पीड़िता की तहरीर के आधार पर आरोपित पति समेत ससुराल के छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस चनप्पा ने एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि करते हुए बताया कि पीड़िता की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने पूरी घटना की जांच शुरू कर दी है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper