भारत-न्यूजीलैंड वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल से पहले आईसीसी ने किए कुछ नियमों में बदलाव, जाने क्या हैं नए नियम

भारत और न्यूजीलैंड के बीच 18 जून से होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल को लेकर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने कुछ नियम तय के हैं। आईसीसी ने साफ किया कि अगर मैच ड्रा या टाई रहता है तो इसके लिए अलग से कुछ नहीं किया जाएगा बल्कि दोनों टीमों को विजेता घोषित कर दिया जाएगा।

फाइनल साउथैंप्टन के द एजिस बाउल मैदान पर 18 से 22 जून के बीच खेला जाएगा। जबकि बारिश से बाधित हुए समय के लिए 23 जून को रिजर्व डे के तौर पर रखा जाएगा। यानी अगर बारिश की वजह से मैच का कोई दिन खराब होता है तो उसके लिए रिजर्व डे रखा गया है। ऐसा इसलिए ताकि पूरे 5 दिन मैच हो सके। लेकिन अगर 5 रेगुलर डे में ही हार, जीत, ड्रॉ या टाई का फैसला निकलता है, तो रिजर्व डे में मैच नहीं जाएगा।

वहीं तमाम विवादों के बाद भी आईसीसी ने फैसला किया है कि डीआरएस और अंपायर्स कॉल जारी रहेगा। लेकिन इसके साथ ही आईसीसी क्रिकेट बोर्ड और क्रिकेट कमेटी ने डीआरएस में एलबीडब्ल्यू रिव्यू के नियमों में कुछ बदलाव किए। नए नियम के मुताबिक एलबीडब्ल्यू के रिव्यू के लिए विकेट जोन की ऊंचाई को बढ़ाकर स्टंप के सबसे ऊपरी छोर तक कर दिया गया है।

वहीं दूसरा बदलाव भी आईसीसी ने एलबीडब्ल्यू के रिव्यू को लेकर किया है। इसके मुताबिक अंपायर के फैसले पर रिव्यू लेने से पहले खिलाड़ी अंपायर से बातचीत कर पूछ सकेगा कि क्या बल्लेबाज ने गेंद को खेलने की सही कोशिश की थी या नहीं।

इसके अलावा अगर कोई मामला शार्ट रन के लिए फंसता है तो उसका निर्णय टीवी अंपायर यानी थर्ड अंपायर के अधिकार में होगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper