देवरिया में सभी सीटों पर चुनाव में सभी दलों ने तेज की तैयारी

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में सात में से छह विधानसभा सीटों पर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) के बीच सीधी टक्कर के बीच रूद्रपुर में भाजपा, कांग्रेस और सपा के बीच त्रिकोणीय लड़ाई होने की अटकलें हैं।
देवरिया सीट पर मौजूदा विधायक सत्य मणि त्रिपाठी पर भाजपा एक बार फिर दांव लगा सकती है। त्रिपाठी गांव-गांव जाकर कोरोना की गाइड लाइन का पालन करते हुए जनता से अपने पक्ष मेंं आशीर्वाद मांग रहे हैं। हालांकि कई अन्य भी भाजपा के टिकट के लिये उतावले दिख रहे हैं। सपा भी यहां से मैदान मारने के लिये तत्पर है और योग्य उम्मीदवार की तलाश में है। कांग्रेस और बसपा का प्रचार अभियान भी अब जोर पकड़ रहा है।
रूद्रपुर विधानसभा से भाजपा विधायक एवं मंत्री जय प्रकाश निषाद का टिकट कटने की चर्चाओं के बीच भाजपा से उम्मीदवारी के दावेदार दिनेश तिवारी क्षेत्र में अपना प्रचार कर रहे हैं। वहीं रूद्रपुर सीट से कांग्रेस के पूर्व विधायक अखिलेश प्रताप सिंह ने भी टिकट की अपनी दावेदारी को पक्का मानते हुये प्रचार अभियान तेज कर दिया है। वहीं, इस सीट पर सपा से टिकट के कई दावेदार हैं। इनमें श्रीनाथ तिवारी, पूर्व विधायक खोखा सिंह ने जनता से आशीर्वाद मांगना शुरु कर दिया है।
सपा,बसपा से पाला बदलकर वर्षों पूर्व भाजपा में आने वाले बरहज सीट से विधायक सुरेश तिवारी को अपनी साफ सुथरी छवि का भरोसा है। हालांकि कई बार वह अपने बड़बोलेपन के कारण चर्चा में रहते हैं। अब देखना है कि पार्टी उनको यहां से अपना उम्मीदवार बनाती हैया नहीं। बरहज सीट से भाजपा के उम्मीदवार बनने के लिये नीरज शाही भी अपना दमखम दिखाने का प्रयास कर रहे हैं। यहां से सपा के युवा नेता पूर्णेंन्दु तिवारी ने भी अपने जनसंपर्क अभियान को गति प्रदान करेगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper