भारतीय सेना की कम्यूटर साइंस की पाठशाला

 नई दिल्ली (शाश्वत तिवारी)। दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र मिशन (यूएनएमआईएसएस) के लिए काम कर रहे भारतीय शांति सैनिक वहां के छात्रों को कंप्यूटर साइंस की बेसिक ट्रेनिंग दे रहे हैं। इस संबंध में सूडान स्थित भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर जानकारी दी है।

अपने ट्वीट में दूतावास ने कहा है कि आज़ादी का अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में दक्षिण सूडान के मलाकल में यूएनएमआईएसएस की भारतीय बटालियन 65 स्थानीय छात्रों के कम्प्यूटर कौशल विकास में योगदान दे रही है।

भारतीय सेना की कम्यूटर साइंस की पाठशाला

यूएनएमआईएसएस के लिए काम कर रहे भारतीय शांति सैनिकों ने 65 छात्रों को दिया कम्यूटर का ज्ञान

भारतीय शांति सेनाएं दक्षिणी सूडान की आजादी के कुछ साल बाद से ही तैनात हैं। यहां भारतीय शांति सेना क्षेत्र में शांति बनाएं रखने के साथ-साथ लोगों को जागरुक करने का भी कार्य करती रहती है। शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे आवश्यक जरुरतों के लिए भारतीय शांति सेना हर समय मदद के लिए तत्पर रहती है। इसके अलावा खेल गतिविधियों के माध्यम से भी शांति सेना के जवान लोगों को बीच उमंग का संचार करते रहते हैं।

भारतीय शांति सेना की इसी कर्तव्यनिष्ठा के चलते संयुक्त राष्ट्र ने हाल ही में जून में 135 शांति सैनिकों को संयुक्त राष्ट्र पदक से सम्मानित किया। भारतीय शांति सेना दक्षिण सूडान में जोंगलोई, ग्रेटर पिबोरो, ओर और अकोबों में तैनात हैं। भारतीय शांति सेना नागरिक और सैन्य सहयोग के फॉर्मूले पर चलते हुए दक्षिण सूडान के नागरिकों के जीवनस्तर को सुधारने का कार्य कर रही है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper