जो बाइडेन की हेल्थकेयर टीम में भारतीय मूल के सर्जन विवेक मूर्ति को मिल सकती है बड़ी भूमिका

न्यूयॉर्क। भारतीय मूल के पूर्व अमेरिकी सर्जन जनरल विवेक मूर्ति के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन की हेल्थकेयर टीम में बड़ी और अहम भूमिका के लिए चुने जाने की प्रबल संभावना है। मूर्ति वर्तमान में बाइडेन-हैरिस ट्रांजिशन कोविड-19 टास्क फोर्स के सह-अध्यक्ष हैं।

विवेक मूर्ति

विलमिंगटन (डेलावेयर) में बाइडेन ट्रांजिशन हेडक्वार्टर से आ रही खबरों के मुताबिक, बाइडेन द्वारा अगले सप्ताह स्वास्थ्य और मानव सेवा सचिव के लिए अपनी पसंद की घोषणा करने की उम्मीद है और मूर्ति कथित तौर पर इस पद के लिए दौड़ में आगे हैं और साथ ही सर्जन जनरल की अपनी पूर्व भूमिका के लिए एक शीर्ष पसंद हैं।

मूर्ति 15 दिसंबर, 2014 से 21 अप्रैल, 2017 तक अमेरिका के 19 वें सर्जन जनरल के रूप में काम कर चुके हैं। अपने मृदुभाषी स्वभाव के लिए पहजाने जाने वाले, मूर्ति बेस्टसेलर ‘टुगेदर : हीलिंग पॉवर ऑफ ह्यूमन कनेक्शन इन ए समटाइम्स लोनली वल्र्ड’ के लेखक भी हैं।

मूर्ति को 2017 में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा इस्तीफा देने के लिए कहा गया था, हालांकि उन्हें 2014 में पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा चार साल के कार्यकाल के लिए नामित किया गया था। सर्जन जनरल के रूप में सेवा करते हुए, मूर्ति ने अन्य सार्वजनिक स्वास्थ्य चुनौतियों के बीच इबोला और जीका वायरस के प्रसार का मुकाबला किया।

बाइडेन ने गुरुवार को एंथनी फौची के साथ भी बात की, जो नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शस डिजीज का नेतृत्व करते हैं। बाइडेन ने ‘सीएनएन’ को बताया कि वह फौची को एक मुख्य चिकित्सा सलाहकार और अपनी कोविड-19 सलाहकार टीम का सदस्य बना रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper