गजब! यहां शादी के दिन से तीन दिनों तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट, जानिए क्यों?

टॉयलेट

शादी को लेकर हर धर्म में रस्में व रिवाज अलग-अलग हैं। लेकिन दुनिया में कुछ ऐसे धर्म भी हैं जिनके बारे में जानकर आपके होश पाख्ता हो जाएंगे। जी हां, हम बात कर रहे है इंडोनिशया की जहां शादी की एक अनोखी रस्म में अदा की जाती है। यह अनोखी रस्म दूल्हा-दुल्हन के टॉयलेट जाने को लेकर पाबंदी पर है।

इस तरह दो युवतियों ने की एक युवक से शादी, पढ़िए प्यार की अनोखी दास्तान

टॉयलेट जाने पर पाबंदी

दरअसल इंडोनेशिया में दूल्हा-दुल्हन को तीन दिनों तक टॉयलेट जाने पर पाबंदी होती है। यह रस्म टीडॉन्ग समुदाय में है। ऐसा करना अपशकुन समझा जाता है। स्थानीय समुदाय के अनुसार शादी एक पवित्र समारोह है। टॉयलेट जाने से उनकी पवित्रता भंग होती है। इससे नव वर-वधू अशुद्ध हो जाते हैं।

रस्म और रिवाज

नजर से बचाने की कोशिश इंडोनेशिया में ये रिवाज अदा करने का मुख्य कारण नव दंपत्ति को बुरी नजर से बचाना है। समुदाय के अनुसार वॉशरूम को कई लोग इस्तेमाल करते हैं। वे शरीर की गंदगी को बाहर निकालते हैं। इसके चलते वहां नकारात्मक शक्तियां होती है। शादी के तुरंत बाद टॉयलेट जाने से यही नकारात्मकता दूल्हा-दुल्हन में आने की आशंका रहती है।

OMG! धरती पर ये कचरा फेंक रहे एलियंस, हार्वर्ड प्रोफेसर के दावे से दुनिया हैरान

शादी टूटने का खतरा

टीडॉन्ग समुदाय के अनुसार शादी के तुरंत बाद शौचालय का इस्तेमाल करने से नवविवाहित दंपत्ति का रिश्ता खतरे में पड़ सकता है। वहां मौजूद बुराईयां उनमें आ सकती है, जिससे उनके रिश्तों में तल्खी आ सकती है। कई बार तो संबंध टूटने की भी नौबात आ जाती है।

जा सकती है पार्टनर की जान

समुदाय के लोगों का मानना है कि शादी के बाद टॉयलेट का इस्तेमाल करना दूल्हा-दुल्हन के लिए घातक हो सकता है। ये उनमें से किसी एक की जान भी खतरे में डाल सकता है। समय रहते ध्यान न देने पर नव दंपत्ति का नया संसार नष्ट हो सकता है। खाने में कटौती नव वर—वधू को टॉयलेट न जाना पड़े इसके लिए उन्हें तीन दिन तक कम खाना-पीना दिया जाता है। समुदाय के लोग इस रस्म कड़ाई से पालन करते हैं। वे ध्यान रखते हैं कि इस रस्म के चलते दूल्हा-दुल्हन को कोई तकलीफ न हो, साथ ही वे शौचालय का इस्तेमाल न करें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper