मुजफ्फरनगर में अंतर्राज्यीय महिला गैंग का भंडाफोड़, चार महिला सदस्य गिरफ्तार

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर पुलिस ने दस दिन पूर्व चरथावल थाना क्षेत्र में एक मजदूर के थैले को काटकर चालीस हजार रुपये उड़ाने वाली घटना का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने अंतर्राज्यीय महिला गैंग की चार सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर चोरी की गयी नगदी में से दस हजार पांच सौ की रकम, दो मोबाइल व चार ब्लेड बरामद किये। सीओ सदर के मुताबिक़ इस गिरोह में नौ महिला सदस्य हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

सीओ सदर कुलदीप कुमार ने बताया कि तीस सितंबर को ग्राम न्यामू निवासी इस्लाम पुत्र गफूर के थैले से 40 हजार रुपये की नकदी साफ कर दी थी। पीड़ित की सूचना पर पुलिस ने बैंक,दुकानदार व आसपास के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज निकलवायी थी, जिसमें दुकान पर पीड़ित के पास दो महिलाएं खड़ी दिखायी दी थी, जबकि इनकी एक साथी दूर खड़ी थी। पुलिस ने सर्विलांस के माध्यम से महिलाओं की कुंडली खंगाली तो महिलाओं के एक बड़े गैंग का पता चला। जो बैंक से रुपये निकालने वालों पर नजर रखकर, उनको अपना शिकार बनाते है।

पुलिस के मुताबिक़ यह महिला गैंग जनपद मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, शाहजंहापुर, आगरा, बरेली सहित अनेक स्थानों पर सक्रिय है और घटना को अंजाम देकर दूर निकल जाता है। इस गिरोह की चार महिला सदस्यों को शुक्रवार को थाना प्रभारी धर्मेंद्र सिंह ने टीम के साथ मुखबिर की सूचना पर उस समय गिरफ्तार किया, जब वह ग्राम दधेड़ू में बैंक के निकट किसी घटना को अंजाम देने की फिराक खड़ी थी।

गिरफ्तार की गैंग की सदस्यों में हिना पत्नी गौतम निवासी गुलखेड़ी थाना बोड़ा, वंशिका पुत्री विनोद, प्रियंका पत्नी सन्दीप, उपासना मानेरिया पुत्री डैनी निवासीगण कदिया सांसी तहसील पचोर, जनपद राजगढ़, मध्यप्रदेश शामिल हैं। सीओ सदर ने इस शातिर गैंग के सदस्यों के पकडने पर थाना प्रभारी धर्मेंद्र सिंह सहित पूरी टीम को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि महिला गैंग के खुलाशे से इस तरह की चोरियों पर अंकुश लगेगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper