इजराइल-गाजा के बीच मिस्र ने कराया संघर्ष विराम, 11 दिनों के खूनी जंग में 243 फिलिस्तीनी और 12 इजराइली मारे गए

इजराइल और फिलिस्तीन के बीच पिछले 11 दिनों से चल रही बमबारी अब खत्म हो गई। शुक्रवार 21 मई को तड़के सुबह 2 बजे संघर्ष विराम की घोषणा की गई। अलजजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक इजराइल और फिलिस्तीनी सैन्य समूह के बीच सीजफायर ऐलान के बाद गाजा पट्टी में मौजूद लोग गलियों में आकर खुशियां मनाने लगे। इसके बाद फिलिस्तीनी परिवार अपने तबाह हुए घरों की ओर वापस जाने लगे।

इस संघर्ष विराम में मिस्र ने मध्यस्थता की। सीजफायर का ऐलान बाइडेन और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी के बीच फोन पर बातचीत के कुछ घंटों बाद ही हो गया।

इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के कार्यालय से जारी एक बयान में कहा गया कि इजरायली कैबिनेट ने मिस्र का प्रस्ताव मंजूर कर लिया है, ‘पारस्परिक और बिना शर्तों’ के सीजफायर किया जाएगा। इस सीजफायर में जरूर कतर और जॉर्डन ने भी अपनी भूमिका निभाई है लेकिन असल भूमिका मिस्र की ही थी।

उधर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी इजराइल से कहा था कि वो इस लड़ाई में कमी चाहते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बाइडन पर उनकी डेमोक्रेटिक पार्टी का दबाव था कि नेतन्याहू इस लड़ाई को रोक दें।

मालूम हो कि संघर्ष विराम से पहले जारी खूनी जंग में इजराइल की ओर से की गई बमबारी में 243 फिलिस्तीनी मारे गए। जिसमें 66 बच्चे शामिल थे। जबकि हमास की ओर से किए गए हमले में 2 बच्चों समेत 12 इजराइली मारे गए।

Related Articles

Back to top button
E-Paper