JHANSI NEWS: एक क्लिक में पढ़ें झांसी की महत्वपूर्ण खबरें

झांसी

बीयु में इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी विभाग ने कराई वर्किंग मॉडल प्रतियोगिता

झांसी। इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में ऑनलाइन वर्किंग मॉडल कंपटीशन कराया गया. इस वर्किंग मॉडल कंपटीशन में देशभर के 8 प्रदेशों से 36 टीमों ने प्रतिभागिता कि. यह अपने आप में पहला प्रयास था जब विद्यार्थियों को उनकी रूचि के अनुसार वर्किंग मॉडल को ऑनलाइन प्रदर्शित करके सराहा गया. कार्यक्रम में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान को पुरस्कृत किया जाएगा।

मुख्य अतिथि बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो जे वी वैशंपायन ने कहा की निश्चित ही यह एक नया प्रयोग है एवं इस नए प्रयोग से नए-नए कॉन्सेप्ट्स उभर कर सामने आएंगे। इस प्रकार के कार्यक्रम से विद्यार्थी पेंडमिक सिचुएशन में भी कुछ नया और क्रिएटिव करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। डीन इंजीनियरिंग प्रो एस के कटियार ने देश भर से विद्यार्थियों द्वारा किए गए रजिस्ट्रेशन पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने बताया कि यदि यह प्रयास सफल रहा तो निश्चित ही इस क्रम को आगे बढ़ा कर इस कार्यक्रम की श्रृंखला बनाई जाएगी. आईईटीई भोपाल के चेयरमैन प्रो पी के सिंघल ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया।

उन्होंने बुंदेलखंड विश्वविद्यालय कोइस आयोजन के लिए बधाई दी। टेक्यूप कोऑर्डिनेटर इंजि. बृजेंद्र शुक्ला ने प्रतिभागी विद्यार्थियों को शुभकामना दी। कार्यक्रम के संयोजक इंजि. शशिकांत वर्मा ने स्वागत भाषण के दौरान सभी अतिथियों का स्वागत किया एवं सभी सक्रिय सदस्यों का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम समन्वयक डॉ अनुपम व्यास ने मॉनिटर की भूमिका निभाई।

कार्यक्रम में राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली, आंध्र प्रदेश, झारखंड एवं गुजरात से टीमों ने प्रतिभागिता की. इस अवसर पर नोडल ऑफिसर एकेडमिक डॉ ए पी एस गौर, नोडल ऑफिसर फाइनेंस इंजि. राजेश वर्मा एवं नोडल ऑफिसर प्रोक्योरमेंट डॉ रंजीत सिंह सहित सभी विभाग अध्यक्ष उपस्थित रहे। कार्यक्रम के बारह जिसमें सदसीय निर्णायक मंडल में डॉ जाकिर अली, डॉ राजेश वर्मा, डॉ सादिक खान, इंजि. विजय वर्मा, इंजि. विशाल आर्य, डॉ एपीएस गौर, डॉ शुभांगी निगम, इंजि. रवि कुमार, इंजि. जितेन गोयल, इंजि. साक्षी दुबे, इंजि. दिनेश द्विवेदी एवं डॉ रंजीत सिंह रहे।


किसान आंदोलन से कई ट्रेन रद्द रहेंगी

झांसी। रेल प्रशासन द्वारा बताया गया है कि हाल ही में पारित कृषि अध्यादेश के विरुद्ध किसान मजदूर संघर्ष समिति द्वारा रेल रोको आंदोलन सहित 48 घंटे के पंजाब बन्द का आव्हान किया है। रेल यात्रियों की सुरक्षा के दृष्टिगत दिनांक 24 से 26 सितंबर (यात्रा प्रारम्भ तिथिअनुसार) तक निम्नलिखित गाड़ियों के संचालन में निम्नानुसार परिवर्तन किया जा रहा है।

1- गाड़ी सं – 02715 नांदेड़ – अमृतसर एक्सप्रेस 23 / 24 एवं 25 सितंबर को अम्बाला में शार्ट टर्मिनेट कर दी जाएगी। इसी प्रकार गाड़ी सं – 02716 अमृतसर- नांदेड़ एक्सप्रेस दिनांक 25  एवं 26 सितंबर को अम्बाला से शार्ट ओरिजीनेट की जाएगी । अतः 24 सितम्बर को गाड़ी सं 02716 अमृतसर-अम्बाला के मध्य रद्द रहेगी।


कांग्रेसियों ने गल्ला मंडी में किया विरोध प्रदर्शन

झांसी। शहर काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरविंद वशिष्ठ के नेतृत्व में भारत कर्फ्यू के समर्थन में भारी संख्या में कांग्रेसियों ने गल्ला मंडी पहुँच कर व्यापारियों, किसानों और पल्लेदारों के बंद का समर्थन किया एवं फल मंडी व्यापारियों के समर्थन से फलमंडी की दुकानें भी बंद करवाई और किसानों के हित मे सहयोग की अपील की।

उक्त अवसर पर मोदी सरकार द्वारा काला कानून किसान अधिनियम का विरोध करते हुए सभा का आयोजन किया गया जहां सभा के दौरान भोजला गल्ला मंडी में भारी पुलिस बल ने सभा स्थल को घेर लिया। सभा को सम्बोधित करते हुए अध्यक्ष अरविंद वशिष्ठ ने कहा कि मौजूदा सरकार किसानों के विरोध में किसान अधिनियम लायी है जिससे किसानों को भविष्य में भारी समास्यायों का सामना करना पड़ सकता है।

किसान अधिनियम से स्पष्ट होता है कि भविष्य में मंडी व्यवस्था ही खत्म हो जाएंगी जिससे कॉरपोरेट ओर बिचौलियों का फायदा होगा , ओर किसानों को उनकी उपज की सही कीमत नही मिलेगी। बिल में समर्थन मूल्य का भी कोई स्पष्ट उल्लेख नही है , बिल की धारा 4 के अनुसार यह स्पष्ट होता है कि किसान को उसकी उपज का मूल्य 3 कार्य दिवसों में दिया जाएगा जो कहीं से किसान के लिए हितकर नही साबित होगा इसलिए इस किसान विरोधी अधिनियम का विरोध करते हैं।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व सदस्य राजेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि यह बिल किसानों के लिए सरासर अहितकारी है जिसकी वजह से देश का किसान पूरी तरह बर्बाद हो जाएगा और वह अपने ही खेत पर मजदूर बन कर रह जायेगा। पूर्व मंडल प्रवक्ता राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि मोदी सरकार का बिल उनकी बहुत बड़ी भूल है जिसका खमियाजा किसान अकेले ही नही अपितु पूरा देश भुगतेगा क्योकि इससे आवश्यक खाद्यान वस्तुयों की काला बाजारी को बढ़ावा मिलेगा।

पूर्व जिला पंचायत सदस्य बलवान सिंह यादव ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में किसान का बड़ा योगदान है और जब सारे सेक्टर नीचे आ गए तब किसानों ने ही देश की अर्थव्यवस्था को संभाल कर रखा और अब यह सरकार किसानों को खत्म कर के किसानी का कार्य भी बड़े उद्योगपतियों के हाँथ में सौंपना चाहती है। संचालन कांग्रेस के वरिस्ठ नेता उपाध्यक्ष शहर कांग्रेस कमेटी राजेन्द्र रेजा ने किया।

ये भी पढ़ें- बॉलीवुड के दिग्गज सिंगर एसपी बालासुब्रमण्यम का 74 वर्ष की उम्र में निधन

वक्तायों में शहर सचिव जितेंद्र भदौरिया, सचिव जय करन निर्मोही, महिला कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष प्रभा पाल , महिला कांग्रेस शहर अध्यक्ष शमशाद बेगम , जिला अध्यक्ष कांग्रेस सेवादल विनोद वर्मा , प्रदेश सचिव किसान काँग्रेस मानू सिंह पारीछा, किसान कांग्रेस जिला अध्यक्ष कुलदीप यादव , रम्मू सैनी चिरगाँव , सचिन श्रीवास मोठ , गौरव सोनी , मानवेन्द्र यादव बरथरी गांव , विपिन समाधिया कुमरार गांव , आसिया सिद्दकी , समीमा बानो , अनु श्रीवास्तव , सौरभ पसइयाँ गांव , धनंजय राजपूत जौहरी गांव, संगम राजपूत जौहरी गांव, मनीष आर्या पारीछा , शिवा सिंह पारीछा आदि ने रहे।


दो बदमाश तमंचा कारतूस सहित बंदी, चोरी का माल भी बरामद 

झांसी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री दिनेश कुमार पी के निर्देशन व पुलिस अधीक्षक नगर श्री राहुल श्रीवास्तव एवं क्षेत्राधिकारी नगर राजेश सिंह के पर्यवेक्षण में अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम में दो आरोपियों को चोरी के माल एवं तमंचा व कारतूस सहित बंदी बना लिया गया है।

24 सितम्बर को राकेश अग्रवाल पुत्र कमलापत अग्रवाल निवासी-37/1 बासुदेव गली बडाबाजार थाना कोतवाली झांसी द्वारा अपने प्लाट के अन्दर से अज्ञात चोरों द्धारा पंखे पुराने व 10 किलो तांबा तार चोरी कर लेने के सम्बन्ध मे थाना कोतवाली मे मुकदमा दर्ज कराया था। जिसकी विवेचना कर रही कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर शुक्रवार को कूडा डम्पिग स्थल हाइवे को जाने वाली रोड पशुपति कालोनी चौकी क्षेत्र बडागाँव गेट से सचिन वर्मा और राजेश प्रजापति को गिरफ्तार कर लिया गया।

दोनों से चोरी किये हुये सामान में दो पँखे, एक तमंचा 315 बोर के साथ 2 जिन्दा कारतूस बरामद किये। राजेश प्रजापति की निशानदेही पर पुलिस ने चोरी का 10 किलो ताँबा के साथ एक छुरी भी बरामद की। दोनों ने अन्य स्थानो से भी चोरी की घटना करना बताया है जिसकी गहनता से जानकारी की जा रही है।पुलिस की जाँच मे सचिन वर्मा और राजेश प्रजापति का आपराधिक इतिहास भी सामने आया है।


एक अक्टूबर से चलेगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान, कोरोना के साथ डेंगू व मलेरिया से भी करें बचाव

झांसी। प्रदेश सरकार के निर्देश पर विशेष संचारी रोग नियंत्रण दस्तक अभियान को सफल बनाने के लिए शुक्रवार को विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी शैलेष कुमार की अध्यक्षता में बैठक हुई। जिसमें पहली अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाए जाने को लेकर रणनीति तैयार की गई।

ये भी पढ़ें- VIDEO: इस देश में मिला इंसानों से भी बड़ा ‘चूहा’, दहशत में आए लोग

मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि कोरोना महामारी के साथ-साथ सबको अन्य बीमारियों से भी बचाने की जरूरत है। जैसे डेंगू, मलेरिया, चिकुनगुनिया, बुखार भी हमारी सेहत के लिए हानिकारक हैं। यदि इन बीमारियों से बचाव के लिए पहले से ही सतर्क हो जाएं तो निश्चित ही इनसे बचा जा सकता है। अभियान के तहत साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जलभराव रोकने व शुद्ध पेयजल उपलब्धता पर विशेष जोर दिया जाएगा। लोगों के व्यवहार परिवर्तन के लिए जमीनी स्तर पर आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्री, प्रधान व अध्यापक आदि के माध्यम से जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। मुख्य विकास अधिकारी श्री शैलेष कुमार ने अधिकारियों को बेहतर कार्य योजना बनाकर आपसी समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिए ताकि संचारी रोगों पर नियंत्रण पाया जा सके।

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि कोरोना संकट में अधिकारी व कर्मचारी दस्तक अभियान के दौरान विशेष सावधानी बरतें। उन्होंने सीएमओ, डीपीआरओ, बीएसए, जलनिगम व सभी अधिशासी अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए सभी का कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण है। अभियान में लापरवाही किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

सीएमओ डा. जी के निगम ने बताया कि अभियान का उद्देश्य है कि अधिक से अधिक लोगों को संचारी रोगों के बारे में जागरूक और उनका इलाज कराना। कोरोना काल में अन्य बीमारियों से भी बचाव करना जरूरी है। इसी के साथ दस्तक अभियान के तहत आशा घर घर जाकर उन बच्चों की भी लिस्टिंग करेंगी जो टीकाकरण से छूट गए है।

बैठक में एसीएमओ डॉ॰ राजकिशोर, जिला मलेरिया अधिकारी आर के गुप्ता, जिला पंचायत राज अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला पशु-चिकित्सा अधिकारी, नगर स्वास्थ्य अधिकारी, अधिशाषी अभियंता, जिला कृषि रक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी सहित सभी ब्लॉक के अधीक्षक व प्रभारी चिकित्सा अधिकारी शामिल रहे

Related Articles

Back to top button
E-Paper