दिल्ली पुलिस ने सैकड़ों लापता बच्चों को उनके परिवार वालों से मिलवाया

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ‘ऑपरेशन मिलाप’ के तहत अभी तक सैंकड़ों लापता बच्चों को उनके परिवार वालों से सकुशल मिलवा चुकी है। जिनकी परिवार वालों ने मिलने की आस बिल्कुल छोड़ दी थी। इसी क्रम में रोहिणी जिले के बुद्ध विहार थाना पुलिस ने एक लापता बच्चे को उसके परिवार वालों से मिलवाकर उनकी खुशियों को लौटाया है।

डीसीपी प्रणव तयाल ने बुधवार को बताया कि बीते सोमवार को भलस्वा डेयरी थाने में शिकायतकर्ता कृष्ण ने अपने पांच साल के बच्चे आदेश के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी, जो रविवार की शाम करीब चार बजे अचानक घर से निकल गया था,लेकिन वापिस नहीं आया। जिसको उन्होंने काफी तलाशने की कोशिश की। पुलिस ने मामला दर्ज किया। बच्चे को तलाशने की कोशिश की। लापता बच्चे की तलाश के लिए सभी थानों को सूचना भी दी गई थी।

नवाब मलिक का दावा, एनसीबी के छापे के बाद क्रूज शिप पर हुई ड्रग पार्टी

इस बीच बुद्ध विहार पुलिस जोकि अभी तक दर्जनों परिवार वालों को उनकी खुशियों को लौटा चुकी है। वह बच्चे को तलाशने में जुटी। हेड कांस्टेबल मासूम और महिला कांस्टेबल पूनम ने लापता लड़के का पता लगाने के लिए प्रयास किया। पुलिस टीम ने सीसीटीवी फुटेज की जांच की, पीडि़त के दोस्त और परिवार के सदस्यों से पूछताछ की, बस स्टॉप, अस्पताल, रेलवे स्टेशनों आदि पर तलाशी ली। बाल गृहों में भी पूछताछ की गई।

इससे पता चला कि एक बच्चे को बुराड़ी पुलिस ने सोमवार को होली क्रॉस चाइल्ड होम धीरपुर में जमा करवाया था, जो अपना पता नहीं बता पा रहा था। जिसके परिवार वालों को तलाशने की उन्होंने भी काफी कोशिश की थी। जिसकी तस्वीरें माता-पिता को दिखाई गईं। उन्होंने उसकी पहचान की। बच्चे को सकुशल होली क्रॉस चाइल्ड होम से लाकर परिवार वालों को सौंप दिया। काउंसलिंग के दौरान लड़के ने खुलासा किया कि उसके पिता ने उसे पास की एक दुकान से तेल की थैली खरीदने के लिए भेजा था लेकिन वह रास्ता भटक गया।

Related Articles

Back to top button
E-Paper