कुदरत का कर‍िश्मा : शाहजहांपुर के निजी अस्पताल में जन्मा अद्भुत बच्चा

शाहजहांपुर। जिले में एक मह‍िला ने एक अद्भुत बच्चे को जन्म द‍िया है। बच्चे के दो सर, चार हाथ और दो पैर हैं। इससे क्षेत्र में कौतुहल है। कोई इसे कुदरत का कर‍िश्मा तो कोई भगवान का अवतार बता रहा है। वहीं, इस बच्चे को देखने के ल‍िए निजी अस्पताल में लोगों की भीड़ उमड़ रही है। फिलहाल जच्चा और बच्चा दोनों ही स्वस्थ हैं।

हरदोई जिले के रहने वाले यासीन अपनी गर्भवती पत्नी को लेकर शाहजहांपुर जिले के एक निजी अस्पताल में भर्ती था, जहां मह‍िला ने एक अद्भुत बच्चे को जन्म दिया। बच्चे के दो सर है व बच्चे पेट आपस मे जुड़े हए है। उसके दो सर, चार हाथ और दो पैर हैं। हालांकि, जच्चा और बच्चा दोनों ही स्वस्थ हैं।

इस अद्भुत बच्चे के जन्म की सूचना जैसे ही लोगों तक पहुंची देखने के लिए हॉस्प‍िटल में लोगों की भीड़ लग गयी। कोई इस बच्चे को भगवान का अवतार बता रहा है तो कोई इसे कुदरत का करिश्मा मान रहा है। डॉ. गौरव मिश्रा की माने तो बच्चे को दिल्ली में डॉक्टरों को दिखाने की तैयारी कर रहे हैं। उनका कहना है कि इस तरह के बच्चे कम समय तक ही जीवित रह पाते हैं। पेट में कम जगह होने की वजह से खाल जुड़ जाती है और बच्चा पनप नहीं पाता है। इसी वजह से इस प्रकार के विकृत बच्चे होते हैं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper