यूपी में बारिश के बाद ओलावृष्टि की संभावना, अभी और बढ़ेगी ठंड

ओलावृष्टि

लखनऊ: हवाओं की दिशाएं बदलने के साथ रात में उत्तर प्रदेश के अधिकांश जिलों में हुई हल्की बारिश से मौसम का मिजाज बदल गया। मौसम विभाग के अनुसार अभी तीन दिनों तक ऐसा ही मौसम रहेगा और इसके बाद एक बार फिर शीतलहर का प्रकोप बढ़ेगा। इसके साथ ही जहां कोहरा बढ़ेगा तो वहीं आगामी दिनों में ओलावृष्टि पड़ने की भी संभावना है।

फिरोजाबाद: सब्जी मंडी में लगी भीषण आग, कई दुकानें जलकर हुईं खाक

पक्षिमी विक्षोभ के सक्रिय होने व हवा का रुख बदलने से मौसम का मिजाज शनिवार की शाम से ही बदलने लगा और रात में आसमान में बादल छाने लगे। इसके बाद देर रात हल्की बारिश भी हुई। इसका असर तड़के भी रहा और बदली के बीच रविवार को दिन निकला। सुबह हल्का कोहरा भी छाया रहा, जो सूरज चढ़ने के साथ खत्म हो गया, लेकिन आसमान में बदली छायी है। बारिश के साथ आसमान में बदली छाने व हवाओं की दिशा बदलने से बर्फीली हवाओं का प्रभाव कम हो गया और उत्तर प्रदेश के ज्यादतर जनपदों में तापमान सामान्य हो गया। इससे लोगों को शीतलहर से काफी राहत मिल सकी। हालांकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश का बरेली जनपद 3.7 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे सर्द भरा जनपद रहा।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर के मौसम वैज्ञानिक डाॅ. एसएन पांडेय ने रविवार को बताया कि उत्तर प्रदेश के अधिकांश जनपदों में हल्की बारिश हुई है। इसके साथ ही आसमान में बादल छाये हुए हैं, जिससे तापमान लगभग सामान्य रहा और लोगों को गलन से कुछ राहत मिल सकी। बताया कि इस हफ्ते भीषण सर्दी पड़ने वाली है, पर उसके तीन दिन पहले तक तीन से पांच डिग्री तापमान बढ़ने से प्रदेशवासियों को राहत मिलेगी। इसका कारण पश्चिमी विक्षोभ के साथ हवा का रुख बदलना है। अभी छह जनवरी तक कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी होगी, जबकि कुछ स्थानों पर तेज बारिश व ओले पड़ने की भी संभवाना है। उन्होंने बताया कि मौसम के इस बदलाव के चलते सुबह व रात के तापमान में कुछ वृद्धि होगी। बारिश के बाद दिन मौसम बेहद ठंडा होने की संभावना है। लखनऊ और कानपुर समेत आसपास के क्षेत्रों में शीतलहर का प्रकोप रहेगा। इसके अलावा पाला पड़ने की भी संभावना है। गंगा के मैदानी क्षेत्रों में तराई इलाकों में घने कोहरे की चादर छाई रहेगी। पहले उत्तरी पश्चिमी हवा चल रही थी अब उत्तर पूर्वी हवा चलने लगी है। बताया कि अगले चौबीस घंटों में पूर्वी उत्तर प्रदेश में मौसम मुख्यतः शुष्क रहेगा और एक या दो स्थानों पर छिछिला से मध्यम कोहरा पड़ने की संभावना है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक या दो स्थानों पर क्षेत्रो में वर्षा या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक या दो स्थानों पर शीत दिवस बने रहने की संभावना है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमशः 24 और 08 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

प्रमख शहरों का इस तरह रहेगा अधिकतम व न्यूनतम तापमान

आगरा 17—7 अलीगढ़, 16—6 बहराइच, 23—6, बांदा 22—5, बरेली 19—3.7, फैजाबाद 22—5, नोएडा 17—5, गाजियाबाद 18—5, गोरखपुर 22—5, झांसी 24—7, लखनऊ 24— 6 प्रयागराज 25—9, वाराणसी 25—7, कानपुर 18—6 डिग्री सेल्सियस तापमान रहने की संभावना है।

मवेशियों का बढ़ायें राशन

मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि बदले मौसम से दिन के तापमान में बढ़ोत्तरी हुई है और तीन दिनों बाद फिर से शीतहर चलने की संभावना है। ऐसे मौसम में दुधारु मवेशियों का खास ख्याल रखने की जरुरत है। गाय, भैंस व बकरी जैसे मवेशियों को कंबल व टाट से ढककर रखें और उनके बाड़े को इस तरह बंद रखें कि सर्द हवाएं प्रवेश न कर सके। इसके सा​थ ही धूप निकलते ही उनको धूप में ले जायें।

Related Articles

Back to top button
E-Paper