लखनऊ : गौ सेवा आयोग की लापरवाही, गायों की शिफ्टिंग के नाम पर चल रहा खेल

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में गौ सेवा आयोग की लापरवाही से बदमाशों के हौसले बुलंद चल रहे हैं। दरअसल यहां गायों की शिफ्टिंग के नाम पर भारी भरकम ख़ेल किया जा रहा है। वहीं आयोग के बैनर तले गोवंश शिफ्टिंग सर्टिफिकेट प्रॉसेस भी अधर में लटका पड़ा है। बता दें कि गायों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने पर आयोग को प्रमाण पत्र जारी करना होता है।

गौ सेवा आयोग

मुख्यमंत्री के निर्देश के बावजूद भी अफसरों की भारी लापरवाही के चलते गोवंश की सुरक्षा पर संकट खड़ा हो गया है। गौ-तस्करी रोकने के लिए बनाई गई टीम ऑन ग्राउंड से कोसों दूर नजर आ रही है।

मुख्यमंत्री के निर्देश के बावजूद भी आयोग के अफसरों की लापरवाही और मनमानी साफ तौर पर देखी जा सकती है। जानकारी के मुताबिक, सांख्यिकी तौर पर गौशालाओं का आधिकारिक निरीक्षण तक नहीं हुआ। गोपालकों के यहां रखी गायों का कोई ऑफिशियल डाटा तक तैयार नहीं किया गया।

तस्करी की घटनाओं में हिस्सेदारों की मौजूदा स्थिति को ट्रेस करने की कोई यूनिट भी नहीं बनाई गई। वहीं छुट्टा जानवरों की देखभाल के नाम पर पशुधन विभाग की भारी अनियमितता भी देखने को मिल रही है।

वहीं दुधारू पशुओं की अवैध कटान पर प्रशासन की ज़िम्मेदार यूनिट तक की भारी लापरवाही साफ-तौर पर नजर आ रही है। अवैध बूचड़खानों में दुधारू पशुओं के क़त्लेआम पर विभागीय एक्शन की ज़िम्मेदारी तक नहीं होती।

Related Articles

Back to top button
E-Paper