अजीत सिंह हत्‍याकांड : शूटर के पिता के नाम से चलता था देशी शराब का ठेका

मऊ। राजधानी में हुई गैंगवार में मऊ के पूर्व ब्लॉक प्रमुख के पति अजीत सिंह के हत्या में एक लाख का इनामी आरोपित गिरधारी शर्मा उर्फ डॉक्टर के पिता डग्गर विश्वकर्मा के नाम से देशी शराब ठेका चलता था। रविवार को जिला व पुलिस प्रशासन ने आबकारी टीम के साथ छापेमारी के बाद दुकान सील कर दिया गया है।

अजीत सिंह

अपराध की दुनिया में डॉक्टर के नाम से मशहूर गिरधारी शर्मा विगत 6 जनवरी को लखनऊ में हुई गैंगवार में आरोपित है। गिरधारी वर्तमान के समय में जेल में बंद ध्रुव सिंह उर्फ कुंटू सिंह का शूटर है। अपने अपराध को संचालन करने के लिए अपने पिता के नाम से देशी शराब का ठेका चलवाता था।

यूपी में बढ़ा बर्ड फ्लू का खतरा, कानपुर के बाद लखनऊ चिड़ियाघर में अलर्ट

रविवार को जैसे ही इसकी भनक पुलिस को लगी कि अपर जिला अधिकारी ,अपर पुलिस अधीक्षक, अधीनस्थ स्थानीय अधिकारियों के साथ आबकारी विभाग की टीम धमक पड़ी और दुकान को सील कर दिया।

पुलिस अधीक्षक सुशील सिंह घुले ने बताया कि अजीत हत्याकांड में मोस्ट वांटेड गिरधारी शर्मा के पिता के नाम से देशी शराब का ठेका चलता था जिसे आज सील कर दिया गया है। निरस्तीकरण के लिए आगे की कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी को भेज दिया गया है।

उप्र: मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का शुभारंभ, गरीबों को मिलेगी बेहतर इलाज की सुविधा

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस बड़ी कार्रवाई से अपराधियों का मनोबल तो पस्त होगा ही साथ ही आर्थिक साम्राज्य पर भी चोट पहुंचेगी।

बता दें कि लखनऊ के गोमतीनगर क्षेत्र के विभूतिखंड इलाके में कुछ दिन पहले ही गैंगवार में अजीत सिंह की हत्‍या कर दी गई थी। अजीत सिंह को इस गैंगवार में 21 गोलियां लगी थीं।

Related Articles

Back to top button
E-Paper