लखनऊ से बाराबंकी तक दो और रेल लाइनें बिछेंगी, मंदिर लुक में संवारे जाएंगे अयोध्या तक के स्टेशन

लखनऊ

लखनऊ। राजधानी लखनऊ से बाराबंकी तक दो और रेल लाइनें बिछाई जाएंगी। लखनऊ से बाराबंकी रेलवे स्टेशन तक अभी डबल रेल लाइन है। रेलवे पर्यटकों और श्रद्धालुओं को लुभाने के लिए बाराबंकी से अयोध्या तक के स्टेशनों को राम मंदिर की तर्ज पर सजाए और संवारेगा।

रेलवे प्रशासन लखनऊ से अयोध्या तक के रेल रूट को विकसित करने का कार्य तेजी से कर रहा है। बाराबंकी से अयोध्या स्टेशन तक रेल लाइन के दोहरीकरण का कार्य होना है। इस बार के रेल बजट में धनराशि आवंटित कर दी गई है।

लखनऊ : विधानसभा के सामने आत्महत्या रोकने को खुला पुलिस बूथ

लखनऊ से बाराबंकी तक होंगी चार रेल लाइनें

मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) संजय त्रिपाठी ने सोमवार को बताया कि लखनऊ से बाराबंकी तक दो रेल लाइनें और बिछाई जाएंगी। दो लाइनें और बिछाने से लखनऊ से बाराबंकी के बीच चार रेल लाइनें हो जाएंगी। इससे ट्रेनें बेवजह आउटर पर खड़ी नहीं होंगी।

लखनऊ से अयोध्या तक दो चरणों में होगा दोहरीकरण का कार्य

उन्होंने बताया कि अकबरपुर से बाराबंकी तक 161 किलोमीटर तक की रेल लाइन का दोहरीकरण किया जाएगा। इसके लिए बजट में 1,200 करोड़ रुपये मिले हैं। फिलहाल अकबरपुर से बाराबंकी तक के दोहरीकरण लिए तेजी से कार्य शुरू हो गया है। अगले वर्ष के समापन तक दोहरीकरण का कार्य पूरा हो जाएगा। पहला अनुमोदन (एप्रूवल) अकबरपुर से अयोध्या और अयोध्या से बाराबंकी के लिए मिला है। फिलहाल लखनऊ से फैजाबाद रूट पर ट्रेनों का दबाव सबसे अधिक है।

राम मंदिर लुक में संवारे जाएंगे बाराबंकी से अयोध्या तक के स्टेशन

मंडल रेल प्रबंधक ने बताया कि बाराबंकी से अकबरपुर दो महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों अयोध्या और वाराणसी को जोड़ता है। अयोध्या में राम मंदिर बन रहा है। बाराबंकी और अयोध्या के मध्य पड़ने वाले रेलवे स्टेशनों को राम मंदिर मॉडल की तर्ज पर सजाया और संवारा  जाएगा। इससे बाराबंकी और आस-पास के रेलवे स्टेशन मंदिर लुक में दिखेंगे। मंदिर लुक में दिखने से इन स्टेशनों से गुजरने वाले श्रद्धालुओं को धार्मिक यात्रा का आभास होगा।

Related Articles

Back to top button
E-Paper