Madhya Pradesh : हाईटेंशन लाइन की चपेट में आया परिवार, तीन की मौत से सहमा शहर

भिंड। जिले के ऊमरी थाना क्षेत्र अंतर्गत अमन का पुरा और कोक सिंह के पुरा के बीच बीती रात हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि परिवार बैलगाड़ी से जा रहा था, इसी बीच बैलगाड़ी पर रखी लोहे की चारपाई हाईटेंशन लाइन के तार से टकरा गई। इस कारण बैलगाड़ी में करंट फैल गया और उसमें सवार पति-पत्नी और चार वर्षीय बेटी की झुलसकर मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, मृतक की मां और मामा का बेटा गंभीर रूप से घायल हो गया, जिन्हें गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

हाईटेंशन लाइन

ऊंचाई की वजह से गयी जान

बताया जाता है कि भिण्ड जिले के ग्राम अमन का पुरा और कोक सिंह के पुरा के बीच हाईटेंशन लाइन जा रही है, जिसके तार मात्र तीन से चार फीट की ऊंचाई पर हैं। इनके सड़क किनारे झूलने से हादसे की आशंका बनी रहती थी। रविवार की रात यहां बड़ा हादसा हो गया। बताया जा रहा है कि 32 वर्षीय श्याम पुत्र परमाल सिंह निवासी सर्किट हाउस के पास भिंड, 27 वर्षीय चिरैया पत्नी श्याम सिंह, 4 वर्षीय अक्षता पुत्री श्याम सिंह, 86 वर्षीय केता बाई पत्नी परमाल सिंह, 40 वर्षीय कप्तान पुत्र मातादीन सिंह रविवार की रात नौ बजे बिलाव से बैलगाड़ी में अपना सामान रखकर भिंड की ओर लौट रहे थे, तभी अमन का पुरा और कोक सिंह के पुरा के बीच बिजली यह हादसा हो गया।

यूपी की स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं को पीएम ने दी बूस्‍टर डोज, हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर में नया रिकॉर्ड बनाएगी योगी सरकार

लोहे की चारपाई बनी मौत की वजह

यहां जमीन से चार-पांच फीट ऊंचाई पर झूल रहे हाईटेंशन लाइन के तार बैलगाड़ी में रखी लोहे की चारपाई से टकरा गए। इससे बैलगाड़ी में करंट फैल गया और उसमें सवार श्याम सिंह, उनकी पत्नी चिरैया और बेटी अक्षता की करंट लगने से मौत हो गई। वहीं मृतक श्याम सिंह की मां केता बाई और मामा का बेटा कप्तान सिंह बुरी तरह से करंट से झुलस गए। साथ ही दोनों बैलों की भी मौत हो गई। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर ऊमरी थाना पुलिस पहुंची। पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले को जांच में लिया है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper