मथुरा : घर में रखे पटाखों में हुआ विस्फोट, एक की मौत, 6 लोग घायल

मथुरा। थाना सुरीर क्षेत्र अंतर्गत गांव सुरीरकलां में बीतीरात दो मंजिला मकान में अवैध रूप से रखे आतिशबाजी के भण्डारण में विस्फोट हो गया, जिसके फलस्वरूप मकान धराशायी हो गया जिसके मलबे में दबकर एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि छह लोग घायल हो गए।

मथुरा

सूचना पर पहुंची पुलिस व ग्रामीणों ने मलबे में दबे लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया। एसपी देहात ने बताया कि शनिवार सुबह तीन लोगों को प्राथमिक उपचार देने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है जबकि तीन लोगों का उपचार जिला अस्पताल में चल रहा है।

दरअसल, कस्बा सुरीर में कोतवाली के पीछे सुरीरकलां में जोगेन्द्र सिंह के बाबा गंगाराम के नाम आतिशबाजी का लाइसेंस था। गंगाराम की मौत के बाद लाइसेंस निरस्त हो गया लेकिन चोरी छिपे आतिशबाजी बनाने का काम हो रहा था। दीपावली के त्योहार को नजदीक देख पटाखे बनाने के लिए बारूद व आतिशबाजी का अवैध भंडारण कर रखा था। बीती रात शनिवार तड़के एक बजे अचानक मकान के दूसरे मंजिल पर रखे बारूद व आतिशबाजी में धमाका हो गया। तेज धमाके के साथ दो मंजिला मकान भरभरा कर गिर पड़ा। जिसके चलते 25 वर्षीय जोगेन्द्र पुत्र बाबूराम की मौत हो गई। जबकि मकान के मलबे में 55 वर्षीय इन्द्रवती पत्नी बाबूलाल, 22 वर्षीय शिवानी पत्नी जोगेन्द्र, 40 वर्षीय बॉबी उर्फ सुनील पुत्र असर्फी लाल, 18 वर्षीय सबिता पुत्री बाबूलाल, 48 वर्षीय महेन्द्र पुत्र रामदास, 13 वर्षीय किशोर महेन्द्र पुत्र रामदास दबने के कारण घायल हो गए।

विस्फोट की सूचना पर पुलिए अधीक्षक ग्रामीण श्रीश चन्द्र एवं एसडीएम व सीओ समेत अधिकारीओं ने मौके पर पहुंच गए और घायलों को आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया, शनिवार सुबह इन्द्रवती, शिवानी, बॉबी का उपचार चल रहा है जबकि सबिता, महेन्द्र, दीपांशु को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे गई है।

एसपी देहात श्रीश चन्द्र ने बताया कि अवैध रूप से मृतक ने अपने घर में पटाखों का भण्डारण कर रखा था। थाना सुरीर में मु0अ0सं0 235/20 धारा 4/5 विस्फोटक पदार्थ अधि0 बनाम इन्द्रवती आदि के विरूद्ध पंजीकृत कराया गया है, जबकि सीएफओ मथुरा को तत्काल मौके पर भेजकर घटना के कारणों के सम्बन्ध में शीघ्र अति शीघ्र जॉच रिपोर्ट देने के आदेश दिए गए है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper