हाथरस गैंगरेप पीड़िता के गांव में घेराबंदी, मीडिया का प्रवेश प्रतिबंधित

हाथरस

हाथरस। हाथरस के बूलगढ़ी गांव में जिला प्रशासन द्वारा शुक्रवार को मीडिया के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के बाद से ही माहौल में गर्मागरमी बढ़ गई है। गांव के आसपास शुक्रवार को पुलिसबल की भारी तैनाती की गई थी और यहां तक कि स्थानीय लोगों की आवाजाही भी प्रतिबंधित कर दी गई थी। मीडियाकर्मियों को पीड़ित के घर तक पहुंचने और उसके परिवार से मिलने से रोकने के लिए पुलिसकर्मियों को खेतों में भी खड़ा पाया गया।

ये भी पढ़ें- गांधी जयंती : राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और यूपी सीएम ने दी बापू को श्रद्धांजलि

एक स्थानीय अधिकारी, जिन्होंने अपनी पहचान नहीं बताई, “उन्होंने कहा कि जिले में धारा 144 लागू होने के कारण प्रतिबंध लगाया गया है।” उप्र के मंत्री और सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने लखनऊ में कहा, “आज, तृणमूल पार्टी के लोगों ने गांव तक पहुंचने की कोशिश की और उनका उद्देश्य सिर्फ इस स्थिति में अपनी उपस्थिति दर्ज कराना था। यह ‘मैं भी हूं ना’ जैसा है।”

ये भी पढ़ें- …जब वाराणसी के आश्रम में ठहरे हुए थे संजय मिश्रा

इससे पहले राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा सहित कांग्रेस नेताओं को यमुना एक्सप्रेसवे पर गुरुवार को हाथरस जाने से रोका गया था।

Related Articles

Back to top button
E-Paper