अधिकारियों की निगरानी में संक्रमितों तक पहुंचे मेडिकल किट-सीएम योगी आदित्यनाथ

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की रोकथाम के निगरानी समिति को कुछ दिशा निर्देश जारी किए हैं। प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना के लक्षण वाले हर व्यक्ति को निगरानी समितियों के माध्यम से मेडिसिन किट उपलब्ध कराई जाए। शासन द्वारा हर जिले को पर्याप्त मात्रा में दवाइयां उपलब्ध करायी गयी है। मेडिसिन किट जिन्हें उपलब्ध कराई जाए, उसका सत्यापन भी अवश्य हो। हर जनपद में न्याय पंचायत स्तर पर सेक्टर अधिकारियों की तैनाती करते हुए उसकी सूची जन प्रतिनिधियों को उपलब्ध कराई जाए।

सीएम ने मंगलवार शाम को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बैठक कर कोविड प्रबंधन व इंसेफेलाइटिस नियंत्रण को लेकर गोरखपुर मंडल का चारों जिलों की स्थिति की समीक्षा बैठक की। बैठक में गोरखपुर के अधिकारी मौजूद रहे। जबकि कुशीनगर, देवरिया व महराजगंज के अधिकारी वर्चुअल जुड़े। कोविड नियंत्रण को लेकर हर पहलू की मुख्यमंत्री ने गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि 108 एम्बुलेंस की 75 प्रतिशत सेवाएं कोविड कार्यों में लगाई जाय।

उन्होंने ब्लैक फंगस वार्ड बनाने तथा वहां दवाओं की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश देते हुए संभावित तृतीय वेव की तैयारी अभी से कर लेने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि हर जनपद में आक्सीजन प्लान्ट स्थापित किये जा रहे है और हर जनपद आक्सीजन में आत्मनिर्भर होगा। इस कार्य के लिए उन्होंने एक नोडल अधिकारी भी नामित करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीनेशन की कार्यवाही हर जनपद में होनी है और वैक्सीनेशन वेस्टेज को रोकना है। वैक्सीनेशन कोरोना से बचाव हेतु सुरक्षा कवच है। वैक्सीनेशन सेन्टर के बाहर काल सेन्टर बनाये जाये और हर सेन्टर पर वेटिंगहाल भी बनाये जाये।

Related Articles

Back to top button
E-Paper