सपा-रालोद गठबंधन में सीटों के बंटवारे पर अखिलेश के आवास पर बैठक जारी,जयंत मौजूद

लखनऊ. सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव और रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में दोनों दलों के  बीच गठबंधन को अंतिम रूप देने के लिये सीटों के बंटवारे पर मंगलवार को कोई अंतिम फैसला कर सकते हैं।    

       सपा के सूत्रों के अनुसार जयंत ने अखिलेश के आवास पर उनसे मुलाकात की है। समझा जाता है कि बंद कमरे में चल रही बैठक में दोनों नेता सीटों के बंटवारे पर निर्णायक फैसला कर लेंगे।

       गौरतलब है कि दोनों दलों के बीच चुनाव में गठबंधन की घोषणा पहले ही की जा चुकी है। सूत्रों के अनुसार जयंत ने सपा से 50 सीटों की मांग की है। जबकि सपा नेतृत्व रालोद को 30 से 32 तक सीट देने की पेशकश की है। वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश की चार से पांच सीटें ऐसी भी हैं जिन पर दोनों दल अपने प्रत्याशी उतारने के कारण इन सीटों पर पेंच फंसा हुआ है। सबसे अहम मुद्दा चरथावाल विधानसभा सीट का है। इस सीट पर दोनों दल अपना उम्मीदवार उतारने पर अड़े हैं।

                हाल ही में सपा की साइकिल पर सवार हुये हरेन्द्र मलिक को अखिलेश इस सीट से टिकट देना चाहते हैं, जबकि जयंत खुद इस सीट से विधानसभा चुनाव में किस्मत आजमाना के लिये उत्सुक हैं। 

        अखिलेश और जयंत के बीच हो रही बैठक में इन्हीं सब मुद्दों पर सहमति कायम होने का उम्मीद है। सूत्रों ने बताया कि अगर सीटों के बंटवारे पर दोनों पक्षों के बीच सहमति बन गयी तो आज ही सपा कार्यालय से इसकी औपचारिक घोषणा कर दी जायेगी।

        पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने यूनीवार्ता को बताया कि सहयोगी दलों को गठबंधन के तहत अधिकतम 50 से 55 सीटें ही दी जायेंगी। इनमें रालोद के अलावा ओम प्रकाश की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और रालोद सहित अन्य छोटे दल भी शामिल हैं। ऐसे में रालोद के हिस्से में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 25 और सुभासपा को पूर्वांचल की दर्जन भर से अधिक सीटें मिलने की उम्मीद है।

Related Articles

Back to top button
E-Paper