कारागार राज्यमंत्री ने कृषि ई-कामर्स संस्था का ऐप किया लांच, कहा- बेरोजगारों को मिलेगा काम

लखनऊ। किसानों को ग्राहकों से सीधे जोड़ने की पहल के तहत वरेक्स एग्रो प्रा.लि. लखनऊ लोकेशन के ऐप (सीधे खेत से) की लांचिंग आज कारागार राज्य मंत्री जय कुमार सिंह जैकी के डालीबाग स्थित आवास पर हुई। इस अवसर पर प्रदेश के कारागार राज्यमंत्री जय कुमार सिंह जैकी बोले कि प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर किसान आलू, दालें, चावल व अन्य सब्जियां उगाकर बाहर भेजते है। हालांकि गांव के किसानों को अपना उत्पाद सीधे समीपवर्ती शहर के ग्राहक तक पहुंचाने की सुविधा मिल जाएगी तो इस प्रक्रिया में गांव के बेरोजगार लड़को को काम मिलने से प्रदेश में किसानों व गांव में बेरोजगारी की  समस्या का आंशिक समाधान हो सकता हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पास किये गए कानून भी इसी प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में सहायक होंगे।

कारागार राज्यमंत्री

ऐप से पीएम के फिट इंडिया के मिशन को मिलेगा बढ़ावा : डा.आनन्देश्वर पाण्डेय 

इस ऐप की लॉन्चिंग के बारे में भारतीय ओलंपिक महासंघ (आईओए) के कोषाध्यक्ष  डा.आनन्देश्वर पाण्डेय ने कहा कि खेल की दुनिया से लगभग चार दशकों से जुड़े रहने के कारण मुझे पोषक पदार्थों की महत्ता मालूम है और इसलिए वो ऐसे प्रयासों का पूरी तरह समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि जब किसान अपनी फसल सीधे ग्राहकों तक पहुंचाएगा तो सब्जियों के पोषक तत्व मरेंगे नहीं और शुद्ध सब्जी ग्राहकों तक पहुंचेगी। इससे पीएम के फिट इंडिया के मिशन को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि अभी सब्जी, फल व अन्य उत्पादों की सप्लाई चेन में इतने दलाल हो जाते हैं कि ग्राहकों तक शुद्ध सब्जी व फल पहुंच ही नहीं पाते और पेस्टिसाइड और अन्य रसायनों के उपयोग से फल व सब्जियों को फ्रेश रखने के चलते इनमें से पोषक तत्व ख़त्म हो जाते हैं।

इस बारे में कंपनी के मैनेजिंग पार्टनर अंजनी कुमार ने कहा कि इस ऐप से सब्जियों, फलों व अन्य किसान उत्पादों के आर्डर लिए जाते हैं जिन्हें पैक करके ग्राहकों के घर पर पहुँचाया जाता है, कंपनी अब  अधिक से अधिक सामान किसानों से सीधे खरीदने का प्रयास करेगी और इसकी डिलीवरी के लिए गांव से कर्मचारी भर्ती हुए है। इस अवसर पर वरेक्स एग्रो के निदेशक राजीव चौधरी व चित्रांशी सिंह ने जानकारी दी सीधे खेत से संस्था का उद्देश्य किसानो के उत्पाद सीधे उपभोक्ता तक पहुंचाना है। यह संस्था पिछले ढाई साल से नोएडा में विभिन्न मॉडलों पर कार्य कर चुकी है और अब प्रदेश के अन्य बड़े शहरों मे भी फ्रेंचाइजी मॉडल पर कार्य कर रही है। लखनऊ में सीधे खेत से संस्था का कार्यालय गोमतीनगर में है और ये संस्था जल्द पूरे शहर में सेवाएं शुरू करेगी।

Related Articles

Back to top button
E-Paper